scorecardresearch
 

पन्नीरसेल्वम का पत्ता काट शशिकला संभालेंगी तमिलनाडु की कमान! फैसला कल

तमिलनाडु की सत्ताधारी एआईएडीएमके की महासचिव वीके शशिकला जल्द ही पन्नीरसेल्वम को हटाकर खुद मुख्यमंत्री बनने वाली हैं? ये सवाल इसलिए उठ रहा है क्योंकि राजनीतिक गलियारे में ऐसी अटकलें जोरों पर हैं कि शशिकला राज्य की कमान अपने हाथों में लेने जा रही हैं और कल यानि रविवार को होने वाली पार्टी बैठक में यह ऐलान किया जा सकता है.

शशिकला करीब 30 सालों से जयललिता की करीबी सहयोगी थी शशिकला करीब 30 सालों से जयललिता की करीबी सहयोगी थी

तमिलनाडु की सत्ताधारी एआईएडीएमके की महासचिव वीके शशिकला जल्द ही पन्नीरसेल्वम को हटाकर खुद मुख्यमंत्री बनने वाली हैं? ये सवाल इसलिए उठ रहा है क्योंकि राजनीतिक गलियारे में ऐसी अटकलें जोरों पर हैं कि शशिकला राज्य की कमान अपने हाथों में लेने जा रही हैं और कल यानि रविवार को होने वाली पार्टी बैठक में यह ऐलान किया जा सकता है.

शशिकला राज्य की दिवंगत मुख्यमंत्री जयललिता की काफी करीबी सहयोगी थीं और उनके समर्थक भी इसी तर्क का हवाला देकर उन्हें सीएम पद का असल हकदार बताते हैं.

पन्नीरसेल्वम के कतरे पर
उधर पन्नीरसेल्वम के करीबी माने जाने वाले कई नौकरशाहों के हटाए जाने से भी मौजूदा मुख्यमंत्री के पर कतरे जाने का संकेत मिलता है. ऐसी ही अधिकारी शीला बालकृष्णन हैं, जो जयललिता की सलाहकार थी और बीमारी की वजह से मुख्यमंत्री के अस्पताल में भर्ती रहने के दौरान उन्होंने ही राजकाज संभाला था.

दरअसल शशिकला को राज्य की कमान मिलने संकेत काफी पहले ही मिल गए थे, जब पार्टी की ओर से जारी की गई प्रेस विज्ञप्तियों में उन्हें चिनम्मा (छोटी अम्मा) कहकर संबोधित किया गया है.

बता दें कि राज्य में पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता को उनके समर्थक आदर भाव से अम्मा कह कर पुकारते थे. ऐसे में पार्टी द्वारा उन्हें चिनम्मा कहा जाना जयललिता के उत्तराधिकार पर उनके दावे पर मुहर लगाता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें