scorecardresearch
 

सोमवार को भी नहीं चल सके संसद के दोनों सदन, नरेश अग्रवाल बोले भांडगिरी कर रही है बीजेपी

नोटबंदी के मुद्दे पर वोटिंग के प्रावधान वाले नियम के तहत चर्चा की मांग को लेकर कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और वाम दलों के भारी हंगामे के कारण लोकसभा की कार्यवाही आधे घंटे के लिए 12 बजे तक फिर शुरू होने के बाद दोपहर दो बजे तक और आखिर में दिन भर के लिए स्थगित कर दी गई.

सरकार पर बरसे नरेश अग्रवाल सरकार पर बरसे नरेश अग्रवाल

नोटबंदी को लेकर संसद के दोनों सदनों में विपक्ष का हंगामा सोमवार को भी जारी रहा. लोकसभा और राज्‍यसभा में विपक्ष ने अलग-अलग मांगों को लेकर हंगामा करते रहे. इसके चलते दोनों ही सदनों में कार्यवाही मंगलवार तक के लिए स्‍थगित करना पड़ी.

नोटबंदी के मुद्दे पर वोटिंग के प्रावधान वाले नियम के तहत चर्चा की मांग को लेकर कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और वाम दलों के भारी हंगामे के कारण लोकसभा की कार्यवाही आधे घंटे के लिए 12 बजे तक फिर शुरू होने के बाद दोपहर दो बजे तक और आखिर में दिन भर के लिए स्थगित कर दी गई.

दूसरी ओर राज्‍यसभा में भी नोटबंदी के कारण लोगों को वेतन और पेंशन मिलने में हो रही परेशानी के मु्द्दे पर विपक्ष ने हंगामा किया. कार्यवाही शुरू होने के 25 मिनट बाद ही पहली बार 12 बजे तक के लिए फिर दोपहर दो बजे के बाद राज्य सभा में हंगामा जारी रहा और सदन को मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया है.

भांडगिरी कर रही बीजेपी
राज्यसभा में कार्रवाई के दौरान समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के नेताओं ने नोटबंदी के मुद्दे पर सरकार पर सवाल उठाये. समाजवादी पार्टी नेता नरेश अग्रवाल ने राज्यसभा में हंगामे के दौरान कहा कि बीजेपी भांडगिरी कर रही है. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नक़वी ने जवाब में कहा कि इसको एक्सपंज किया जाए.

उपसभापति पीजे कुरियन ने नरेश अग्रवाल को हिदायत दिया और कहा कि आप ऐसे शब्द का इस्तेमाल नहीं कर सकते, बाद में भांडगीरी शब्द को संसद की कारवाई से एक्सपंज करा दिया गया.

वहीं दूसरी ओर सरकार पर निशाना साधते हुए कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने सरकार को कहा कि क्या मोदी सरकार दिवालिया हो गयी है जो किसी को पैसे नहीं दे पा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें