scorecardresearch
 

RSS से जुड़े लेबर यूनियन ने बीमा क्षेत्र में एफडीआई का विरोध किया

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से सम्बद्ध भारतीय मजदूर संघ ने बीमा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश का विरोध किया है. संघ ने कहा है कि अगर सरकार ने इस आशय का विधयेक पेश किया तो वह अन्य यूनियनों के साथ तत्काल हड़ताल करेगा.

X
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से सम्बद्ध भारतीय मजदूर संघ (बीएमएस) ने बीमा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) का विरोध किया है. संघ ने कहा है कि अगर सरकार ने इस आशय का विधयेक पेश किया तो वह अन्य यूनियनों के साथ तत्काल हड़ताल करेगा.

बीएमएस सहित विभिन्न केंद्रीय श्रमिक यूनियनों की सात अगस्त को बठक होगी जिसमें बीमा क्षेत्र में एफडीआई सीमा बढ़ाने के मुद्दे तथा श्रम कानूनों में प्रस्तावित सुधारों पर आगे के कदम का फैसला किया जाएगा.

बीएमएस के महासचिव वृजेश उपाध्याय ने कहा, ‘हम यूपीए के समय से ही बीमा विधेयक के खिलाफ हैं. हमारा मानना है कि बीमा क्षेत्र में एफडीआई इस क्षेत्र, कर्मचारियों व देश के हित में नहीं है.’ उन्होंने कहा कि जिस दिन बीमा विधेयक संसद में पेश किया गया, देश भर के बीमा श्रमिक हड़ताल पर जाएंगे.

उन्होंने कहा कि भारतीय मजदूर संघ न केवल बीमा क्षेत्र बल्कि समग्र रूप से एफडीआई का विरोध करता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें