scorecardresearch
 

अयोध्या में सिर्फ राम मंदिर बनेगा: आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ  प्रमुख मोहन भागवत मंदिर मुद्दे पर महासचिव भैयाजी जोशी द्वारा दिये गये बयान पर अडिग है. जोशी ने मंगलवार को कहा था कि आम जनता और सत्ता में मौजूद लोग चाहते हैं कि अयोध्या में विवादित भूमि पर राम मंदिर बने.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत (Photo:aajtak) राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत (Photo:aajtak)

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने बुधवार को नागपुर में कहा कि अयोध्या में केवल राम मंदिर बनेगा. भागवत ने यह टिप्पणी ऐसे समय की है जब एक दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि न्यायिक प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही राम मंदिर पर अध्यादेश के संबंध में कोई फैसला हो सकता है. लेकिन उन्होंने जोर दिया कि केन्द्र अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने के लिए सभी प्रयास करने को तैयार है.

बुधवार को इससे पहले, विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने कहा कि हिन्दू राम मंदिर पर अदालत के फैसले के लिए 'अनंतकाल तक' इंतजार नहीं कर सकते. इसके निर्माण की दिशा में आगे बढने का एकमात्र रास्ता कानून बनाना है. राम मंदिर से जुड़े एक सवाल के जवाब में भागवत ने कहा, "अयोध्या में सिर्फ राम मंदिर बनेगा."  

उन्होंने कहा, "हमारी भगवान राम में आस्था है. वह समय बदलने में समय नहीं लेते." उन्होंने कहा कि आरएसएस मंदिर मुद्दे पर महासचिव भैयाजी जोशी द्वारा दिये गये बयान पर अडिग है. जोशी ने मंगलवार को कहा था कि आम जनता और सत्ता में मौजूद लोग चाहते हैं कि अयोध्या में विवादित भूमि पर राम मंदिर बने.

गौरतलब है क‍ि आरएसएस इस मामले पर लगातार अपना पक्ष रख रही है. 1 जनवरी को आरएसएस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से दत्तात्रेय होसबले के हवाले से ट्वीट करते हुए कहा था क‍ि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 2014 के बीजेपी के चुनावी घोषणापत्र में अयोध्या में राममंदिर बनाने के लिए संविधान के दायरे में उपलब्ध सभी संभावित प्रयास करने का वादा किया है. भारत की जनता ने उनपर विश्वास व्यक्त कर बीजेपी को बहुमत दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें