scorecardresearch
 

आधार नंबर सार्वजनिक करने वाले ट्राई चेयरमैन आरएस शर्मा का कार्यकाल दो साल बढ़ा

सरकार ने ट्राई चेयरमैन आरएस शर्मा को दो साल का सेवा विस्तार दिया है. उनका कार्यकाल आज यानि 9 अगस्त 2018 को समाप्त हो रहा था.

रामसेवक शर्मा रामसेवक शर्मा

भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (ट्राई) प्रमुख राम सेवक शर्मा को दो साल का सेवा विस्तार मिल गया है. कार्मिक मंत्रालय ने अपने आदेश में कहा कि मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने ट्राई चेयरमैन के रूप में शर्मा की नियुक्ति को 10 अक्टूबर 2018 से आगे 30 सितंबर 2020 तक बढ़ाने को मंजूरी दे दी है. शर्मा को जुलाई 2015 में तीन वर्ष के लिये ट्राई प्रमुख बनाया गया था.

शर्मा हाल ही में अपना आधार कार्ड का नंबर सार्वजनिक कर चर्चा में आए थे. एक एथिकल हैकर ने उनके डाटा को हैक कर उनके बैंक खाता में एक रुपया ट्रांसफर किया था. आरएस शर्मा ने एक ट्विटर यूजर के सवाल के जवाब में अपना नंबर साझा करते हुए चैलेंज किया था कि अब आप मेरी जानकारी को नुकसान पहुंचाकर दिखाएं.

उनकी इस चुनौती के कुछ मिनटों के बाद ही उनके आंकड़े लीक हो गए. इलियट एल्डरसन उपनाम वाले फ्रांस के एक सुरक्षा विशेषज्ञ का ट्विटर हैंडल @fs0c131y, ने ट्वीट्स की श्रृंखला में शर्मा के निजी जीवन के कई आंकड़े, उनके 12 अंकों की आधार संख्या के माध्यम से जुटाकर जारी कर दिए, जिनमें शर्मा का निजी पता, जन्मतिथि, वैकल्पिक फोन नंबर आदि शामिल हैं.

एंडरसन ने आधार संख्या की मदद से शर्मा के निजी फोटो तक ढूंढ़ निकाले और ट्वीट कर प्रकाशित करते हुए लिखा, "मैं समझता हूं कि इस तस्वीर में आपकी पत्नी और बेटी हैं." एंडरसन आधार डेटा प्रणाली की सुरक्षा से जुड़ी खामियों का खुलासा करने के लिए जाने जाते हैं.

उन्होंने शर्मा से जुड़ी कई सारी जानकारियां और तस्वीरें प्रकाशित की, हालांकि उनमें कई संवेदनशील हिस्सों को ब्लर कर प्रकाशित किया, ताकि शर्मा की निजता को कोई नुकसान न हो. उनके द्वारा प्रकाशित तस्वीरों में शर्मा का पैन कार्ड भी शामिल था, हालांकि उसके नंबरों को एंडरसन ने ब्लर कर दिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें