scorecardresearch
 

BHU के प्रोफेसर फिरोज खान के समर्थन में उतरे संत, विरोध को बताया गलत

हिंदू समाज के कुछ साधु संत फिरोज के समर्थन में उतर आए हैं. साधु संतों ने फिरोज की नियुक्ति के विरोध को गलत बताया है. बगरू के रामदेव गोशाला में बुधवार को फिरोज खान के पिता रमजान खान ने भजन गाए, जिसमें हिंदू समाज के कई साधु संत शामिल हुए.

फिरोज खान के पिता रमजान खान ने भजन गाए फिरोज खान के पिता रमजान खान ने भजन गाए

  • बगरू की गोशाला में जुटे संत
  • पिता ने गाए श्रीकृष्ण के भजन

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के संस्कृत विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर राजस्थान के निवासी फिरोज खान की नियुक्ति पर घमासान मचा हुआ है. विश्वविद्यालय के छात्र फिरोज की नियुक्ति के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं, तो वहीं कुछ हिंदू संगठन भी इसके विरोध में उतर आए है.

फिरोज के समर्थन में बड़ी संख्या में लोग जयपुर के बगरू स्थित आवास पर पहुंच रहे हैं. अब हिंदू समाज के कुछ साधु संत फिरोज के समर्थन में उतर आए हैं. साधु संतों ने फिरोज की नियुक्ति के विरोध को गलत बताया है. बगरू के रामदेव गोशाला में बुधवार को फिरोज खान के पिता रमजान खान ने भजन गाए, जिसमें हिंदू समाज के कई साधु संत शामिल हुए.

साधु संतों ने कहा कि फिरोज की नियुक्ति का विरोध नहीं होना चाहिए. भाषा और कर्मकांड किसी धर्म से जुड़े नहीं हैं. संतों ने कहा कि रमजान खान का हिंदू धर्म से काफी गहरा लगाव रहा है. रमजान को जब भी भजन कीर्तन के लिए बुलाया जाता है, वह पहुंचते हैं और गाते हैं.

धर्म के आधार पर विरोध ठीक नहीं

संतों ने एक स्वर से फिरोज की नियुक्ति के विरोध को गलत बताया और कहा कि केवल धर्म के आधार पर विरोध ठीक नहीं है. रमजान के परिवार को गो माता  से गहरा जुड़ाव रहा है. वह अपने परिवार के साथ गोशाला में मौजूद रहते हैं. गौरतलब है कि फिरोज खान की नियुक्ति बीएचयू के संस्कृत विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर हुई है. संस्कृत विभाग में मुस्लिम धर्म के व्यक्ति की नियुक्ति का छात्र विरोध कर रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें