scorecardresearch
 

इमरान खान से पीएम मोदी को उम्मीद, कहा- आतंक और हिंसा से मुक्त होगा PAK

पाकिस्तान में जीत हासिल करने के फौरन बाद इमरान खान ने भारत से रिश्तों को मधुर बनाने की बात कही थी. साथ ही कहा था कि वह बातचीत के जरिये दोनों मुल्कों के बीच विवादों को सुलझाना चाहेंगे.

इमरान खान और पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो) इमरान खान और पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उम्मीद जताई है कि हालिया चुनाव में जीत हासिल करने वाले पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) पार्टी के चेयरमैन इमरान खान पड़ोसी मुल्क में अमन और शांति की स्थापना करने में सफल होंगे. साथ ही पाकिस्तान को ऐसी दिशा देंगे जहां आतंकवाद और हिंसा की कोई जगह नहीं होगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दोनों मुल्कों के बीच अच्छे रिश्तों की कामना की. समाचार एजेंसी एएनआई से इंटरव्यू में पीएम मोदी ने कहा कि पाकिस्तान से रिश्तों को सुधारने के लिए उनकी सरकार ने कई कदम उठाए हैं. उन्होंने कहा, 'मैं हमेशा कहता रहा हूं कि हम पड़ोसी देश से अच्छे रिश्ते की चाहत रखते हैं. हमने इस दिशा में कई कदम उठाए हैं. पाकिस्तान में चुनाव में जीत हासिल करने के बाद मैंने इमरान खान को बधाई दी थी. हमें उम्मीद है कि पाकिस्तान सुरक्षित, स्थिर और समृद्ध क्षेत्र के लिए काम करेगा, जो आतंक और हिंसा से मुक्त होगा.'

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने 30 जुलाई को फोन करके इमरान खान को चुनाव में सियासी जीत हासिल करने के लिए मुबारकबाद दी थी. उन्होंने उम्मीद जताई कि नई सरकार के तहत पाकिस्तान में लोकतंत्र की जड़ें गहरी होंगी.

क्रिकेटर से नेता बने 65 वर्षीय इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ 25 जुलाई को हुए आम चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी थी. चुनाव आयोग ने 849 निर्वाचन क्षेत्रों में से 815 में आम लोगों एवं विजेताओं को आधिकारिक रूप से अधिसूचित किया है और अधिसूचनाएं जारी की हैं, अब पार्टियों से जुड़ने की प्रक्रिया शुरू हुई है. 28 निर्दलीयों के जुड़ने से खान की पार्टी के सांसदों की संख्या बढ़कर 144 हो गई है. खान अगले हफ्ते पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री बनने वाले हैं.

जीत हासिल करने के तुरंत बाद अपने भाषण में इमरान खान ने भारत से रिश्तों को मधुर बनाने की बात कही थी. साथ ही कहा था कि वह बातचीत के जरिये दोनों मुल्कों के बीच विवादों को सुलझाना चाहेंगे. भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर को बड़ा मुद्दा बताते हुए इमरान खान ने कहा था कि दोनों देशों को इस मसले पर बैठकर विचार विमर्श करना चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें