scorecardresearch
 

इराक से अपने वतन वापस लौटीं 46 भारतीय नर्सें, 183 लोगों को लेकर पहुंचा विमान

इराक में सुन्नी आतंकी संगठन आईएसआईएस द्वारा मुक्त की गईं 46 भारतीय नर्सों और 137 अन्य लोगों को लेकर एयर इंडिया का विशेष विमान मुंबई पहुंच गया है. विमान सुबह करीब पौने नौ बजे मुंबई एयरपोर्ट पहुंचा. यहां से वह करीब सवा बारह बजे कोच्चि पहुंचे.

X
भारतीय नर्सें भारतीय नर्सें

इराक में सुन्नी आतंकी संगठन आईएसआईएस द्वारा मुक्त की गईं 46 भारतीय नर्सों और 137 अन्य लोगों को लेकर एयर इंडिया का विशेष विमान मुंबई पहुंच गया. विमान सुबह करीब पौने नौ बजे मुंबई एयरपोर्ट पहुंचा. यहां से विमान करीब सवा बारह बजे कोच्चि पहुंचा. कोच्चि एयरपोर्ट पर केरल के मुख्यमंत्री ओमन चांडी उन्हें खुद लेने पहुंचे.

अधिकारी ने बताया कि विमान एरबिल से भारतीय समयानुसार सुबह करीब साढ़े चार बजे रवाना हुआ था. कोच्चि से उड़ान हैदराबाद और फिर दिल्ली पहुंचेगी. नर्सों के अतिरिक्त इस विमान में उत्तरी इराक के किरकुक से निकाले गए 70 लोगों सहित 137 अन्य भारतीय भी सवार थे.

सद्दाम हुसैन के गृहनगर टिकरित स्थित एक अस्पताल में काम कर रहीं नर्सों के कड़वे अनुभव की शुरुआत तब हुई जब 9 जून को इस्लामिक स्टेट फॉर इराक एंड सीरिया (आईएसआईएस) ने हमलों की शुरुआत की.

नर्सों को बीते बृहस्पतिवार को उनकी इच्छा के विपरीत टिकरित से 250 किलोमीटर दूर आतंकवादियों के कब्जे वाले मोसुल शहर ले जाया गया और वहां उन्हें कैद कर दिया गया. एरबिल अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा मोसुल से करीब 80 किलोमीटर दूर है.

संयुक्त सचिव स्तर के एक आईएफएस अधिकारी और केरल से एक महिला आईएएस अधिकारी चार्टर्ड उड़ान में आ रहे भारतीय अधिकारियों में शामिल थे.

प्रवक्ता ने बताया कि एरबिल से एयर इंडिया द्वारा उपलब्ध कराई गई सूचना के अनुसार 46 नर्सें कोच्चि में उतरेंगी और करीब 100 अन्य यात्री हैदराबाद जाएंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें