scorecardresearch
 

रविशंकर प्रसाद ने माना- पटना में सीवर सिस्टम में है गड़बड़ी

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि उन्होंने फरक्का डैम के सारे गेट खुलवा दिए हैं. एयर ड्रॉप की व्यवस्था की गई है, साथ ही कोल इंडिया से पंप की मांग की गई है ताकि पानी निकाला जा सके.

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (फाइल फोटो) केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (फाइल फोटो)

  • रविशंकर प्रसाद ने कहा, फरक्का डैम के सारे गेट खुलवा दिए गए हैं
  • कोल इंडिया से पंप की मांग की गई है ताकि पानी निकाला जा सके

केंद्रीय मंत्री और पटना साहिब के सांसद रविशंकर प्रसाद ने सोमवार को कहा कि पटना में सीवर सिस्टम में गड़बड़ी है जिसके कारण बाढ़ की समस्या झेलनी पड़ी है. उन्होंने कहा,  मैंने फरक्का डैम के सारे गेट खुलवा दिए. एयर ड्रॉप की व्यवस्था की गई है, साथ ही कोल इंडिया से पंप की मांग की गई है ताकि पानी जल्दी निकाला जा सके. प्रसाद ने कहा कि पटना के लोग पीड़ा में हैं और वे उनके साथ हैं.

बता दें, जलभराव के चलते राजधानी पटना की सड़कों पर नावें उतर गई हैं. कई इलाकों में छह से 10 फीट तक पानी जमा है. कमोबेश हर जगह यही मंजर है. राजधानी पटना समेत अन्य कई जिलों के शिक्षण संस्थाओं को बंद कर दिया गया है. बारिश से अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है.

पटना के कई इलाकों में सड़कों के साथ-साथ घरों, अस्पतालों में पानी घुस गया है और सड़कों पर नावें चल रही हैं. राहत की बात है कि सोमवार को बारिश नहीं हुई. हालांकि मौसम विभाग ने बारिश के आसार जताए हैं. इधर, आपदा प्रबंधन विभाग का दावा है कि राहत और बचाव के काम चलाए जा रहे हैं.

बिहार के आपदा प्रबंधन विभाग के मंत्री लक्ष्मेश्वर राय ने सोमवार को बताया कि राज्य में अलग-अलग हादसों में अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से मांगे गए दो हेलीकॉप्टर पटना पहुंच चुके हैं. उन्होंने कहा कि घर में फंसे लोगों के लिए फूड पैकेट गिराने का कार्य चलाया जाएगा. शहर में जलनिकासी के लिए डिवाटरिंग पंप लगाया गया है, जिससे जल्द ही पानी निकासी हो सकेगी.

राजधानी के राजेंद्र नगर सहित कई निचले इलाकों में दुकानें बंद होने से लोगों को जरूरी सामान खरीदना भी मुश्किल हो गया है.(इनपुट आईएएनएस से)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें