scorecardresearch
 

200 करोड़ ज्यादा गंवाकर पाकिस्तान को आई अक्ल, अब खोला एयरस्पेस

पाकिस्तान को एयरस्पेस बंद करने के फैसले की भारी कीमत चुकानी पड़ी. उसे भारत के मुकाबले करीब दो सौ करोड़ ज्यादा का आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा है.

पाकिस्तान का एयर स्पेस बंद करने से एयर इंडिया को 491 करोड़ का घाटा हुआ. पाकिस्तान का एयर स्पेस बंद करने से एयर इंडिया को 491 करोड़ का घाटा हुआ.

बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने आखिरकार 140 दिन बाद भारतीय समेत अन्य विमानों के लिए अपना एयरस्पेस खोल दिया. पाकिस्तान सिविल एविएशन अथॉरिटी ने कहा है कि तत्काल प्रभाव से पाकिस्तान एयरस्पेस को सभी प्रकार के नागरिक यातायात के लिए खोल दिया गया है. पाकिस्तान ने सोमवार रात 12.41 बजे अपना एयर स्पेस खोला. पाकिस्तान को अपने इस फैसले की भारी कीमत चुकानी पड़ी. उसे भारत के मुकाबले करीब दो सौ करोड़ ज्यादा का आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा है. जिसके बाद पाकिस्तान के होश ठिकाने आए और उसे अपने हवाई क्षेत्र को खोलने के लिए मजबूर होना पड़ा.

पाकिस्तानी एयरस्पेस बंद होने से खाड़ी देशों और यूरोप की ओर जाने वाली फ्लाइट्स को अरब सागर पार करते हुए लंबे रास्ते से गुजरना पड़ता था.  पिछले महीने जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किर्गिस्तान में आयोजित समिट में भाग लेने जाने वाले थे, तब पाकिस्तान ने 48 घंटे के लिए एयरस्पेस खोला था. मगर भारत ने पाकिस्तान के एयरस्पेस का इस्तेमाल नहीं किया. नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बीते दो जुलाई को राज्यसभा में हुए एक सवाल के जवाब में पाक एयरस्पेस बंद होने से हुए नुकसान की जानकारी दी थी.

उन्होंने बताया था कि एयर इंडिया को करीब 491 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. वहीं, एक रिपोर्ट के मुताबिक एयरस्पेस बंद करने के फैसले से पाकिस्तान को इस अवधि में 690 करोड़ का आर्थिक नुकसान सहना पड़ा है. इस भारी नुकसान के कारण मजबूर हुए पाकिस्तान ने एयरस्पेस खोलने का फैसला किया है. सूत्र बताते हैं कि नुकसान के ये आंकड़े दो जुलाई तक के हैं. अगर प्रतिबंध खत्म होने से पहले तक के नुकसान को जोड़ें तो आंकड़ा और ज्यादा बढ़ेगा. बता दें कि पाकिस्तान विमानन सचिव शाहरुख ने कहा था कि जब तक भारत फॉरवर्ड पोस्ट से अपने विमानों को नहीं हटाता है, तब तक भारतीय विमानों के लिए पाकिस्तान अपना एयर स्पेस नहीं खोलेगा.

मगर भारी आर्थिक नुकसान होने पर पाकिस्तान को बैकफुट पर आना पड़ा है. पाकिस्तान की ओर से प्रतिबंध लगने के चलते करीब चार सौ इंटरनेशनल फ्लाइट्स पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र को छोड़कर गुजरतीं रहीं. बता दें कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के जवाब में भारत ने 26 फरवरी को बालाकोट में जैश के आतंकी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की थी. जिसके बाद पाकिस्तान ने अपने एयर स्पेस को बंद कर दिया था.  जिसके चलते 233 विमानों के करीब 70 हजार यात्रियों को ज्यादा किराया देकर यात्रा करनी पड़ी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें