scorecardresearch
 

रेल यात्रियों के लिए IRCTC ला रहा यह नई सुविधा, बचेंगे आपके पैसे

शताब्दी और राजधानी ट्रेनों में खाना लेना या ना लेना अब पैसेंजर पर निर्भर करेगा. रेलवे इसकी अनिवार्यता खत्म करने जा रहा है. यात्री टिकट लेते समय ये बताएंगे कि वे खाना लेंगे या नहीं.

शताब्दी और राजधानी ट्रेनों में खाना लेना या ना लेना अब पैसेंजर पर निर्भर करेगा. रेलवे इसकी अनिवार्यता खत्म करने जा रहा है. यात्री टिकट लेते समय ये बताएंगे कि वे खाना लेंगे या नहीं.

जो यात्री खाना नहीं लेंगे, उनसे टिकट के वक्त केटरिंग का पैसा नहीं लिया जाएगा. आईआरसीटीसी के मुताबिक, इसकी शुरुआत 15 जून से होगी.

चार ट्रेनों पर ट्रायल
चार ट्रेनों में इसका ट्रायल शुरू होगा. 2 शताब्दी और 2 राजधानी ट्रेनों में ये लागू किया जाएगा. निजामुद्दीन-मुंबई सेंट्रल अगस्त क्रांति राजधानी, नई दिल्ली-पटना राजधानी, पुणे-सिकंदराबाद शताब्दी और हावड़ा-पुरी शताब्दी एक्सप्रेस ये ट्रेनें हैं.

सफल होने पर सब पर लागू
ट्रेनों में अनिवार्य कैटरिंग सेवा को वैकल्पिक बनाने का ट्रायल अगर कामयाब रहता है, तो बाद में इसे अन्य शताब्दी और राजधानी ट्रेनों में भी लागू किया जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें