scorecardresearch
 

अब आंख की पुतली में लगेगा कंप्यूटर...

वैज्ञानिकों ने दुनिया के सबसे छोटे कंप्यूटर को बनाने का दावा किया है जिसका आकार महज एक वर्ग मिलीमीटर है और इसे किसी की आंख की पुतली में भी प्रत्यारोपित किया जा सकता है.

वैज्ञानिकों ने दुनिया के सबसे छोटे कंप्यूटर को बनाने का दावा किया है जिसका आकार महज एक वर्ग मिलीमीटर है और इसे किसी की आंख की पुतली में भी प्रत्यारोपित किया जा सकता है.

मिशिगन विश्वविद्यालय के दल ने इस कंप्यूटर का इजाद किया है। इस नन्‍हें से उपकरण को आंख में प्रत्यारोपित करके नेत्र रोगों का इलाज किया जा सकता है.

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक यह कंप्यूटर दिखने में भले ही छोटा हो लेकिन इसमें मेमोरी, प्रेशर सेंसर और एक पतली बैटरी सहित कई उपकरण मौजूद हैं.

शोधकर्ताओं का कहना है कि इसमें सोलर सेल और वायरलैस रेडियो तथा एक एंटीना भी है जिसकी सहायता से एक बाहरी रीडर उपकरण को सूचनाएं भेजी जा सकतीं हैं. हालांकि व्यावसायिक रूप से इसके इस्तेमाल में अभी कई साल लगेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें