scorecardresearch
 

नीतीश कुमार के बाद मनमोहन के मंत्रियों की मांग, मिले 'अटल जी' को भारत रत्न

सचिन तेंदुलकर को भारत रत्न दिए जाने की घोषणा के बाद बीजेपी ने देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के लिए भारत रत्न की मांग की थी. बीजेपी की इस मांग के साथ अब उनके विरोधी दलों के नेता भी लामबंद हो रहे हैं. बिहार के सीएम नीतीश कुमार, कांग्रेस नेता व केंद्रीय मंत्री पल्लम राजू और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारुख अब्दुल्ला का कहना है कि अटल जी को भारत रत्न अवार्ड से नवाजा जाना चाहिए.

पल्लम राजू, नीतीश कुमार पल्लम राजू, नीतीश कुमार

सचिन तेंदुलकर को भारत रत्न दिए जाने की घोषणा के बाद बीजेपी ने देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के लिए भारत रत्न की मांग की थी. बीजेपी की इस मांग के साथ अब उनके विरोधी दलों के नेता भी लामबंद हो रहे हैं. बिहार के सीएम नीतीश कुमार, कांग्रेस नेता व केंद्रीय मंत्री पल्लम राजू, नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारुख अब्दुल्ला और शिवसेना नेता संजय राउत का कहना है कि अटल जी को भारत रत्न अवार्ड से नवाजा जाना चाहिए.

बीजेपी ने रविवार को सरकार पर भारत रत्न को लेकर भेदभाव बरतने का आरोप लगाया था. बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि कांग्रेस पार्टी ने देश के नेताओं को भारत रत्न देने में भेदभाव बरता है और इस मामले में उनका नजरिया एक परिवार से आगे नहीं बढ़ पाया है.

नीतीश कुमार ने सोमवार को सचिन तेंदुलकर को भारत रत्न दिए जाने के कदम की सराहना की और कहा कि सचिन इस सम्मान के हकदार थे. साथ ही, नीतीश ने सवाल उठाया कि अब तक अटल बिहारी वाजपेयी को यह सम्मान क्यों नहीं दिया गया? गौरतलब है कि बिहार के मुख्यमंत्री तब बीजेपी के सहयोगी थे, जब एनडीए सत्ता में था और अटल बिहारी देश के प्रधानमंत्री थे.

नीतीश कुमार के इस बयान के कुछ देर बार ही आंध्र प्रदेश से कांग्रेस के नेता और केंद्र सरकार में मानव संसाधन मंत्री एम पल्लम राजू ने भी अटल बिहारी वाजपेयी को भारत रत्न दिए जाने की बात कह दी. राजू ने कहा, 'यदि देश चाहता है तो वाजपेयी जी को भारत रत्न मिलना चाहिए. वाजपेयी एक महान स्टेट्समैन हैं.'

राजू ने कहा, 'मुझे आंकड़ों के बारे में जानकारी नहीं है, लेकिन हमारे देश में भारत रत्न दिए जाने की एक प्रक्रिया है, जिसे एक कमेटी देखती है. यदि देश चाहता है तो वाजपेयी को भारत रत्न दिया जाना चाहिए.'

पल्लम राजू ने 'भारत रत्न' के लिए नॉमिने‍टेड साइंटिस्ट सीएनआर राव के बयान के संदर्भ में कहा, 'वैज्ञानिकों में जाहिर तौर पर निराशा है. हमें साइंस और टेक्नोलॉजी पर और ज्यादा खर्च करना चाहिए.'

साइंटिस्ट सीएनआर राव ने कहा था कि देश में रिसर्च को लेकर और अधिक खर्च किए जाने की जरूरत है. राव ने कहा था, ‘इन मूर्ख (इडियट) नेताओं ने हमें इतना कम दिया है. इसके बावजूद हम वैज्ञानिकों ने कुछ तो किया है.’ राव ने कहा, ‘हमारा निवेश बहुत कम है, देर से मिलता है. हमें जो पैसे मिले उसके लिए हमने काम किया. हमें जितने पैसे मिल रहे हैं वो कुछ भी नहीं हैं.’

संजय राउत ने कहा, वाजपेयी को क्यों नहीं
शिवसेना नेता संजय राउत ने अटल बिहारी वाजपेयी को भारत रत्न दिए जाने की मांग पर कहा कि यदि इंदिरा गांधी और जवाहरलाल नेहरू को यह अवार्ड मिल सकता है तो वाजपेयी को क्यों नहीं?

फारुख अब्दुल्ला ने भी कहा- वाजपेयी को भारत रत्न दो
नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री फारुख अब्दुल्ला ने भी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के लिए देश के सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न की मांग का समर्थन किया. अब्दुल्ला ने संवाददाताओं से कहा, 'मैं भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का सदस्य नहीं हूं, लेकिन एक भारतीय और कोई व्यक्ति यह नहीं भूल सकता कि वाजपेयी जी एक महान नेता हैं. मैं सरकार से अंतत: उन्हें भारत रत्न दिए जाने का अनुरोध करता हूं.'

अब्दुल्ला ने बताया कि देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने एक बार वाजपेयी से कहा था कि वह एक दिन भारत के प्रधानमंत्री बनेंगे.

देखें - अटल बिहारी वाजपेयी की कहानी, तस्वीरों की जुबानी

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें