scorecardresearch
 

राष्ट्रगान के दौरान नितिन गडकरी को चक्कर आया, बीच में बैठाना पड़ा

पुन्यश्लोक अहिल्यादेवी होलकर सोलापुर यूनिवर्सिटी में आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की तबीयत खराब हो गई. गडकरी यहां बतौर विशिष्ट अतिथि के रूप में पहुंचे थे.

नितिन गडकरी (फाइल फोटो) नितिन गडकरी (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र के सोलापुर में आयोजित एक कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की तबीयत बिगड़ गई. राष्ट्रगान के दौरान बेचैनी और चक्कर आने की वजह से गडकरी को बीच में ही बैठना पड़ा. यह जानकारी गडकरी के सहायक ने दी. उन्होंने बताया कि गले में इंफेक्शन के चलते नितिन गडकरी ने स्ट्रॉन्ग ऐंटीबायोटिक दवा ली थी, जिसके कारण उन्हें चक्कर आ गया.

पीटीआई के मतुाबिक, यह घटना पुन्यश्लोक अहिल्यादेवी होलकर सोलापुर यूनिवर्सिटी में आयोजित कार्यक्रम के दौरान हुई. गडकरी यहां बतौर विशिष्ट अतिथि के रूप में पहुंचे थे. बताया जा रहा है कि राष्ट्रगान के दौरान गडकरी खड़े थे. इस दौरान वह अपनी बायीं तरफ झुके और फिर उनके पीछे खड़े सुरक्षाकर्मी ने उन्हें सहारा दिया, जिसके बाद वह बैठ गए.

इस दौरान उन्हें बेचैनी और चक्कर आने की बात कही, जिसके बाद सोलापुर में स्थानीय चिकित्साधिकारी ने उनकी जांच की. चेकअप के बाद डॉक्टरों ने बताया कि उनका ब्लडप्रेशर और शुगर सामान्य है. स्ट्रॉन्ग ऐंटीबायोटिक दवा लेने की वजह से उन्हें चक्कर आया था.

इससे पहले अप्रैल में अहमदनगर में एक चुनावी रैली के दौरान अचानक केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की तबीयत खराब हो गई थी. उस वक्त नितिन गडकरी शिरडी लोकसभा क्षेत्र में एक रैली को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान मंच पर उन्हें चक्कर आ गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें