scorecardresearch
 

'जीवित देवी' का बाल भी बांका नहीं कर पाया नेपाल में आया महा भूकंप

नेपाल में पिछले हफ्ते विनाशकारी भूकंप आने के बाद काठमांडू के दरबार स्क्वायर में बड़े बड़े मंदिर ढह गए लेकिन जीवित देवी के रूप में पूजी जाने वाली 9 वर्ष की कन्या के घर को कुछ खास नुकसान नहीं हुआ.

File Photo: नेपाल की जीवित देवी कुमारी File Photo: नेपाल की जीवित देवी कुमारी

नेपाल में पिछले हफ्ते विनाशकारी भूकंप आने के बाद काठमांडू के दरबार स्क्वायर में बड़े बड़े मंदिर ढह गए लेकिन जीवित देवी के रूप में पूजी जाने वाली 9 वर्ष की कन्या के घर को कुछ खास नुकसान नहीं हुआ.

कुमारी नाम की शहर की जीवित कन्या देवी उन बालिकाओं में शामिल है जिन्हें बालिग होने तक हिंदू देवी दुर्गा के प्रतीक के तौर पर पूजा जाता है और बाद में बदल दिया जाता है. बीते 25 अप्रैल की दोपहर में जब धरती डोलने लगी तो दरबार स्क्वायर के अधिकतर प्राचीन ढांचे ढह गए लेकिन जीवित देवी के छोटे घर में मामूली दरार ही आई.

इस स्थान पर रहने वाली पिछली कुमारियों के परिजन भी इस विश्वास के साथ सुरक्षित स्थानों की ओर नहीं भागे कि कन्या देवी उन्हें अपने प्रभाव से बचा लेगी. पूर्ववर्ती कुमारी की मां ने नेपाली टाइम्स को बताया, ‘अगर वर्तमान कुमारी ने हमें सुरक्षा का आश्वासन दिया है तो हम जानते हैं कि हमें नुकसान नहीं होगा.’

इनपुट भाषा से

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें