scorecardresearch
 

महिला सशक्तिकरण के लिए नौसेना का मिशन समुद्र परिक्रमा

महिला सशक्तिकरण और समुद्र में महिलाओं की भागीदारी का संदेश देने के लिए नौसेना ने महिलाओं की टीम एक खास टीम को समुद्र परिक्रमा पर भेजने की तैयारी की है.

लेफ्टिनेंट कमांडर वर्तिका जोशी, टीम लीडर लेफ्टिनेंट कमांडर वर्तिका जोशी, टीम लीडर

महिला सशक्तिकरण और समुद्र में महिलाओं की भागीदारी का संदेश देने के लिए नौसेना ने महिलाओं की टीम एक खास टीम को समुद्र परिक्रमा पर भेजने की तैयारी की है. भारतीय नौसेना की 6 महिला अधिकारियों ने समुद्र के रास्ते से विश्व परिक्रमा पर निकलने से पहले बुधवार पीएम मोदी से ये मुलाकात की थी.

इस टीम की लीडर लेफ्टिनेंट कमांडर वर्तिका जोशी ने आजतक से खास बातचीत में बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें देश की क्षमताओं शक्तियों को दुनिया के सामने लाने के लिए कहा. यह अभियान नौसेना के जहाज आईएनएसवी तारिणी पर नाविका सागर परिक्रमा नाम से इस महीने के बाद गोवा से शुरू होगा और इसके मार्च 2018 में पूरा होने की उम्मीद है.

वर्तिका सहित छह महिला अधिकारी आईएनएसवी तारिणी में सवार होकर सागर परिक्रमा करने जा रही है. भारतीय इतिहास के इस अभियान में उनकी टीम बिना रुके समुद्र की लहरों को चीरते हुए विश्व भ्रमण करेंगी. इससे पूर्व वह आईएनएसवी महादेई में सफलतापूर्वक कई अभियान पूरा कर चुकी हैं.

इस अभियान दल की प्रमुख लेफ्टिनेंट कमांडर वर्तिका जोशी के अलावा लेफ्टिनेंट कमांडर प्रतिभा जामवाल, पी स्वाति और लेफ्टिनेंट एस विजया देवी, बी ऐश्वर्या और पायल गुप्ता शामिल हैं. इस अभियान में चार ठहराव होंगे -फ्रीमैंटल (आस्ट्रेलिया), लायटलटन (न्यूजीलैंड), पोर्ट स्टैंले (फॉकलैंड) और कैपटाउन (दक्षिण अफ्रीका) शामिल हैं.

गौरतलब है कि भारतीय नौसेना जंगी जहाजों पर महिलाओं की नियुक्ति के बारे में विचार-विमर्श कर रही है. हालांकि नौसेना की लीगल, लॉजिस्टिक्स, नवल ऑर्किटेक्चर और इंजीनियरिंग विंग में महिलाओं की नियुक्ति होती है.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें