scorecardresearch
 

बारिश का कहर: 6 राज्यों में अब तक 523 लोगों की मौत, महाराष्ट्र-केरल बुरी तरह प्रभावित

देश के 6 राज्यों में बाढ़ और बारिश के कारण 523 लोगों की मौत हो चुकी है. सबसे ज्यादा 138 मौतें महाराष्ट में हुई हैं. वहीं उत्तर प्रदेश में 58 लोगों की मौत हुई है.

बारिश और बाढ़ से देश में अब तक 523 लोगों की मौत बारिश और बाढ़ से देश में अब तक 523 लोगों की मौत

देश के कई राज्यों में जोरदार बारिश और बाढ़ ने लोगों का बुरा हाल कर दिया है. आसमान से बरसती आफत से 6 राज्यों में 523 लोगों की मौत हो चुकी है. गृह मंत्रालय के नेशनल इमरजेंसी रिस्पांस सेंटर (एनईआरसी) के अनुसार बाढ़ एवं बारिश के चलते महाराष्ट्र में 138, केरल में 125, पश्चिम बंगाल में 116, गुजरात में 52 और असम में 34 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक उत्तर प्रदेश में 58 लोगों की मौत हुई है.

अतिवृष्टि और बारिश से महाराष्ट्र के 26, पश्चिम बंगाल में 22, असम में 21, केरल में 14 और गुजरात में 10 जिले प्रभावित हैं. एनईआरसी के अनुसार असम में 10.17 लाख लोग बारिश एवं बाढ़ से त्रस्त हैं, जिनमें से 2.17 लाख लोग राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं.

एनईआरसी के अनुसार राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की 12 टीम असम में राहत एवं बचाव कार्य में जुटी है. एनडीआरएफ की एक टीम में 45 कर्मी होते हैं. पश्चिम बंगाल में बारिश एवं बाढ़ से कुल 1.61 लाख लोग प्रभावित हैं.  राज्य में एनडीआरएफ की आठ टीम तैनात की गई हैं.

गुजरात में बाढ़ एवं बारिश से प्रभावित 15,912 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. राज्य में एनडीआरएफ की 11 टीम राहत एवं बचाव कार्य में जुटी है. केरल में 1.43 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. भारी बारिश के कारण राज्य में 125 लोगों की मौत हुई है, जबकि नौ लोग लापता हैं.

दक्षिणी राज्य में राहत एवं बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ की चार टीम तैनात की गई है, जबकि तीन टीमों को महाराष्ट्र में तैयार रखा गया है.

यूपी में बारिश से 58 लोगों की मौत

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक उत्तर प्रदेश के 31 जिलों में 26 जुलाई से 28 जुलाई के बीच भारी बारिश, आंधी और बिजली गिरने के कारण  58 लोगों की मौत हो चुकी है. सबसे ज्यादा 11 मौतें सहारनपुर में हुई है. वहीं अब तक 53 लोग घायल हो चुके हैं. दिल्ली से सटे मेरठ में 10 और आगरा में 6 लोगों की मौत हुई है. सरकार ने मृतकों के परिजनों को 4 लाख, घायलों को 59 हजार की राशि देने का ऐलान किया गया है.

दिल्ली में यमुना खतरे के निशान के पार

दिल्ली में यमुना का जल स्तर खतरे के निशान को पार कर गया है. जिसके बाद दिल्ली सरकार ने यमुना के किनारे वाले इलाकों में बसे लोगों को अलर्ट जारी किया है. वर्तमान में यमुना का जल स्तर 205.4 मीटर है जो कि खतरे के निशान से 0.57 मीटर ऊपर है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें