scorecardresearch
 

'जानते हो मेरा बाप कौन है...' वाला दौर खत्म होः स्मृति ईरानी

स्मृति ने कहा कि युवाओं को नेता बनने से डरना नहीं चाहिए. राहुल गांधी के वंशवाद के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि पैदाइश के आधार पर यह किसी का विशेषाधिकार नहीं है. 'जानते हो मेरा बाप कौन है...' वाला दौर खत्म होना चाहिए. न्यू इंडिया में मेहमत के दम पर सफलता हासिल करने वालों का सम्मान होगा.

'लेसन फ्रॉम मिनिस्टर' सेशन में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी 'लेसन फ्रॉम मिनिस्टर' सेशन में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी

माइंड रॉक्स के पहले सेशन 'लेसन फ्रॉम मिनिस्टर' में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराध के खिलाफ युवाओं को खड़ा होना होगा. न्यू इंडिया युवाओं का होगा, उनकी कल्पना का होगा, जहां महिलाओं के खिलाफ अपराध नहीं होंगे. इस सपने को साकार करने के लिए युवाओं का साथ चाहिए. युवा जब न्यू इंडिया में हिस्सेदार होंगे, तो नया खुद ब खुद आकार ले लेगा.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि युवाओं को ध्यान रखना होगा कि हम गंदगी न फैलाएं और अपने कर्तव्यों के प्रति जिम्मेदार रहें. स्मृति ने कहा कि मुझे असफलता को लेकर डर नहीं लगता. शुरुआत में मुझे भी 2 साल संघर्ष करना पड़ा, लेकिन सफलता आपसे दूर नहीं रह पाती.

राजनीति किसी का विशेषाधिकार नहीं

स्मृति ने कहा कि युवाओं को नेता बनने से डरना नहीं चाहिए. राहुल गांधी के वंशवाद के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि पैदाइश के आधार पर यह किसी का विशेषाधिकार नहीं है. 'जानते हो मेरा बाप कौन है...' वाला दौर खत्म होना चाहिए. न्यू इंडिया में मेहमत के दम पर सफलता हासिल करने वालों का सम्मान होगा.

उन्होंने कहा कि आपकी राजनीति से किसी व्यक्ति का जीवन बदलता है, तो यही आपकी सफलता है. बाकी कुछ मायने नहीं रखता. राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस का जनता से जुड़ाव कट गया है.

स्वच्छता अभियान को तकनीक से जोड़े युवा

युवाओं से स्वच्छता का आह्वान करते हुए स्मृति ने कहा कि तकनीक का इस्तेमाल स्वच्छता के लिए किया जाना चाहिए और युवाओं को इस दिशा में पहल करनी चाहिए. इसके लिए आपको किसी मोन्यूमेंट में जाने की जरूरत नहीं हैं. आप अपने मोहल्ले में भी सफाई कर सकते हैं. इसकी तस्वीर आप सोशल मीडिया पर पोस्ट करें और मुझे टैग करें. मैं आपसे व्यक्तिगत रूप से मुलाकात करूंगी.

ब्लू व्हेल गेम को कहें ना

रैपिड फायर दौर में ब्लू हेल के सवाल पर उन्होंने कहा कि इसे एक स्वर से नकारा जाना चाहिए. उन्होंने युवाओं से इसे न खेलने को कहा और उम्मीद जताई कि युवा सही और गलत का अंतर जानते हैं.

रैगिंग के सवाल पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इसको लेकर कानून है और ये संस्थाओं की जिम्मेदारी है कि इसे लागू करें.

सोशल मीडिया पर फैलने वाली अफवाहों को लेकर स्मृति ने कहा कि इस पर रिएक्ट न करें और बच्चों के साथ वरिष्ठ लोग पर अफवाहों को लेकर सतर्क रहें.

बच्चों को गुड टच और बैड टच के बारे में बताएं

बच्चों को गुड टच और बैड टच सिखाने के बारे में उन्होंने कहा कि मीडिया संस्थानों के साथ माता-पिता को भी इस बारे में बच्चों को जागरूक करना चाहिए. उन्हें अच्छा बुरा समझाएं और किसी भी तरह का संकोच न करें. इस बारे में बच्चों को जागरूक करें.

प्रद्युम्न मर्डर केस के बाद स्कूलों को सुरक्षित करने के सवाल पर स्मृति ने कहा कि माता-पिता को स्कूल प्रशासन के साथ और ज्यादा इंगेज होना चाहिए. अभिभावकों का बच्चों के साथ संवाद बना रहना चाहिए.

नए इंडिया में सबके लिए समान अवसर होगा

जब स्मृति ईरानी से उनके दृष्टिकोण के न्यू इंडिया के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मेरे नए भारत में महिलाओं का सम्मान होगा, स्वच्छता होगी. सबके लिए समान अवसर होगा. उन्होंने कहा कि नए इंडिया के निर्माण के लिए पुरानी रंजिशें भूलकर हमें आगे बढ़ना होगा. जहां सबके लिए समान अवसर होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें