scorecardresearch
 

दिल्ली के अलीपुर गांव में MCD के काम का रियलिटी चेक

गंदगी के कारण होने वाली कई गंभीर बीमारी से भी यहां रहने वाले लोगों को सामना करना पड़ता है. लोगों का कहना है कि यहां एमसीडी ने कुछ काम नहीं किया, हर तरफ कूड़ा बिखरा पड़ा है.

गंदगी से गांव के बुरा हाल गंदगी से गांव के बुरा हाल

दिल्ली के किसी भी गांव में जाने पर लगभग हर वार्ड में गंदगी नजर आती है. सड़कों का हाल भी ठीक नजर नहीं है. एमसीडी चुनाव से पहले 'आज तक' टीम दिल्ली के गांवों में एमसीडी के कामों का जायजा लेने पहुंची तो पता चला कि राजधानी इन गावों में विकास तो दूर बुनियादी सुविधाओं भी नहीं पहुंच पा रही हैं. दिल्ली से 40-50 किलोमीटर दूर अलीपूर गांव है जो रोहिणी विधानसभा के अंतर्गत आता है. लेकिन अलीपुर गांव के विकास की बात कि जाए तो यहां कि तस्वीर बदहाल नजर आती है.

गंदगी से बुरा हाल
साफ-सफाई को मामले में यहां के हालात बेहद खराब दिखाई पड़ते हैं. ये जमीन ग्राम सभा के अंतर्गत आती है लेकिन लोगों ने इसे कूड़ाघर बना दिया है. अब हर कोई यहां पर कुड़ा फेंकता है. लिहाजा यहां पर रहने वाले लोगों का जीना भी मुश्किल हो गया है. गंदगी के कारण होने वाली कई गंभीर बीमारी से भी यहां रहने वाले लोगों को सामना करना पड़ता है. लोगों का कहना है कि यहां एमसीडी ने कुछ काम नहीं किया, हर तरफ कूड़ा बिखरा पड़ा है. एमसीडी से शिकायत के बावजूद भी हालात जस के तस बने हुए हैं.

पार्कों में जिम नहीं
दिल्ली के कई वार्डों के पार्क में जिम भी लगवाई गई है. ग्रेटर कैलाश कि बात करें तो यहां के तो एक ही पार्क में सांसद और विधायक ने जिम का निर्माण करा दिया है. लेकिन यहां के पार्क में बैठने के लिये एक बैंच की व्यवस्था तक नहीं है. पार्क में लाइटें जरूर लगी हैं लेकिन वो भी खराब हैं. लोगों का कहना है कि हमने जिम के लिये और साथ ही पार्क में व्यवस्था के लिये कई बार एमसीडी में निवेदन किया मगर हमारे हाथ निराशा ही हाथ लगी है , आज तक कोई काम नहीं हुआ है.

स्कूलों में नहीं है पीने का पानी
एमसीडी हमेशा ही अपने स्कूलों की तारीफ करती है. इस गांव में भी एमसीडी का स्कूल है. सैकड़ों बच्चे यहां पर पढ़ने आते हैं लेकिन स्थानीय लोग स्कूल के हालात से खुश नहीं हैं. लोगों का कहना था कि इस स्कूल में ना तो सफाई ठीक से होती है और ना ही बच्चों के लिये पीने के पानी की व्य

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×