scorecardresearch
 

शपथ लेने के 3 दिन बाद MP में बंटे विभाग, कमलनाथ के पास सबसे ज्यादा मंत्रालय

मध्य प्रदेश में मंत्रियों के विभागों का बंटवारा हो गया है. बता दें कि विभागों का बंटवारा मंत्रियों के शपथ लेने के 3 दिन बाद हुआ है. पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस पर सवाल भी उठाए थे.

कमलनाथ( फाइल फोटो) कमलनाथ( फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश में मंत्रियों के विभागों का बंटवारा हो गया है. बता दें कि विभागों का बंटवारा मंत्रियों के शपथ लेने के 3 दिन बाद हुआ है. सीएम कमलनाथ ने औद्योगिक नीति एवं निवेश, जनसम्पर्क, साइंस एंड टेक्नोलॉजी, विमानन, तकनीकी शिक्षा और कौशल विकास और रोजगार मंत्रालय अपने पास रखा है. बाला बच्चन को गृह मंत्री बनाया गया है.

दिग्विजय सिंह के पुत्र जयवर्धन सिंह को नगरीय विकास और आवास मंत्री बनाया गया है. सज्जन सिंह वर्मा लोक निर्माण व पर्यावरण विभाग देंखेंगे. आरिफ अकील को भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग की जिम्मेदारी दी गई है.

बृजेंद्र सिंह राठौर वाणिज्यिक कर विभाग की जिम्मेदारी संभालेंगे. गोविंद सिंह राजपूत को राजस्व और परिवहन मंत्री बनाया गया है. इमरती देवी महिला एवं बाल विकास की जिम्मेदारी संभालेंगी. प्रियब्रत सिंह को ऊर्जा और तरूण भनोट को वित्त मंत्री बनाया गया है. उमंग सिंघार वन विभाग देखेंगे. सचिन यादव को किसान कल्याण एवं कृषि विभाग की जिम्मेदारी दी गई है.

डॉक्टर विजयलक्ष्मी साधो संस्कृति, चिकित्सा शिक्षा और आयुष विभाग देखेंगी. हुकुम सिंह कराड़ा को जल संसाधन विभाग, डॉक्टर गोविंद सिंह को सहकारिता और संसदीय कार्य विभाग, प्रदीप जायसवाल को खनिज साधन विभाग, लाखन सिंह यादव को पशुपालन, मछुआ कल्याण और मत्स्य विभाग, ओंकार सिंह मरकाम को जनजातीय कार्य विभाग, जनजाति कल्याण विभाग दिया गया है.

प्रभुराम चौधरी को स्कूल शिक्षा विभाग, सुखदेव पांसे को लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, हर्ष यादव को कुटीर ग्रामोद्योग, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा विभाग, जीतू पटवारी को खेल एवं युवा कल्याण विभाग, उच्च शिक्षा विभाग और कमलेश्वर पटेल को पंचायत और ग्रामीण विकास मंत्री बनाया गया है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें