scorecardresearch
 

केरल: बाढ़ से 87 लोगों की मौत, हालात का जायजा लेने निकले CM विजयन

केरल में बाढ़ की वजह से अब तक कुल 87 लोगों को मौत हो चुकी है. केरल के मुख्यंत्री पिनराई विजयन बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगे.

बाढ़ की स्थिति का मुख्यमंत्री पिनराई विजयन लेंगे जायजा (तस्वीर- इंडिया टुडे-गोपी उन्नीकृष्णन) बाढ़ की स्थिति का मुख्यमंत्री पिनराई विजयन लेंगे जायजा (तस्वीर- इंडिया टुडे-गोपी उन्नीकृष्णन)

केरल से कर्नाटक तक बाढ़ ने तबाही मचा दी है. कर्नाटक की बाढ़ में 48 लोगों की जान जा चुकी है, तो केरल में 87 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. केरल के सीएम पिनराई विजयन ने मंगलवार को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के लिए तिरुवनंतपुरम से रवाना हो गए. सीएम विजयन सबसे पहले वायनाड जाएंगे.

लगातार हो रही बारिश के कारण आई बाढ़ से केरल में काफी नुकसान हुआ है. राज्य में अभी तक बाढ़ के कारण कुल 87 लोगों की मौत हुई है.

2 लाख 87 हजार से अधिक लोगों को अपना घर छोड़कर 1654 से अधिक राहत शिविरों में शरण लेनी पड़ी है. सबसे अधिक, 18 लोगों की मौत वायनाड में हुई है जो वायनाड, कोझीकोड और मलप्पुरम के तीन जिलों में फैला हुआ है.

लगातार हो रही बारिश से केरल को सोमवार के दिन हल्की राहत मिली थी, लेकिन मौसम विभाग ने यहां अगले तीन दिन भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग के मुतबाकि अलप्पुझा, एर्नाकुलम और इडुक्की में मंगलवार से शुरू होने वाली भारी बारिश बुधवार तक जारी रहेगी.

पिछले कुछ दिनों की तरह, सोमवार को भी कुछ लंबी दूरी की ट्रेनों को रद्द किया गया. लेकिन पहले से रद्द की गई कई ट्रेनों को बहाल कर दिया गया.

राज्य के कृषि मंत्री वी. एस. सुनील कुमार की तरफ से दिए गए प्रारंभिक अनुमानों के अनुसार, 18 हजार हेक्टेयर से अधिक की फसलों को नुकसान पहुंचा है. इससे लगभग 81 हजार किसान प्रभावित हुए हैं. बाढ़ के कारण लगभग 800 करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान हुआ है.

(IANS इनपुट के साथ)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें