scorecardresearch
 

कानपुर रेल हादसे के मास्टरमाइंड से पूछताछ के लिए काठमांडू पहुंची NIA

हुदा ने आतंकी हमलों की कलई खोलते हुए बताया कि भारत में आतंक फैलाने के लिए पाकिस्तान से उसे लगातार निर्देश मिल रहे थे. उसने बताया कि भारत और खासकर बिहार में ट्रेनों और रेलवे स्टेशनों को निशाना बनाया जाना था. रेल पटरियों पर धमाकों की साजिश के बारे में भी उसने कई चौंकाने वाले खुलासे किए.

आईएसआई एजेंट शमसुल हुदा ने पाकिस्तान का लिया नाम आईएसआई एजेंट शमसुल हुदा ने पाकिस्तान का लिया नाम

कानपुर रेल हादसे के मास्टरमाइंड और आईएसआई एजेंट शमसुल हुदा ने एनआईए की पूछताछ में पाकिस्तान से अपने कनेक्शन की बात कबूल की है. दरअसल होदा नेपाली नागरिक है और वह दुबई में बैठकर भारत के खिलाफ आईएसआई की साजिशों को अंजाम तक पहुंचाता था. भारत द्वारा इंटरपोल से शिकायत करने पर एजेंसी ने उसे वहां गिरफ्तार कर काठमांडू डीपोर्ट कर दिया था.

ऐसे में एनआईए की टीम उससे पूछताछ के लिए काठमांडू पहुंची, जहां हुदा ने आतंकी हमलों की कलई खोलते हुए बताया कि भारत में आतंक फैलाने के लिए पाकिस्तान से उसे लगातार निर्देश मिल रहे थे. उसने बताया कि भारत और खासकर बिहार में ट्रेनों और रेलवे स्टेशनों को निशाना बनाया जाना था. रेल पटरियों पर धमाकों की साजिश के बारे में भी उसने कई चौंकाने वाले खुलासे किए.

हुदा ने बताया, उसे रेल की पटरियों को बम धमाकों से उड़ाकर ज्यादा से ज्यादा नुकसान पहुंचाने का आदेश मिला था. उसने कहा, 'आतंक के इस खेल में मुझसे भी कई बड़े-बड़े लोग शामिल हैं.' इस दौरान उसने पाकिस्तान के साथ अपने संबंधों पर भी खुलकर बात की.

गौरतलब है कि पिछले साल कानपुर में हुए रेल हादसे में तकरीबन 150 लोग मारे गए थे. वहीं दर्जनों लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए थे. इस रेल हादसे में नेपाल मूल के आईएसआई एजेंट शमसुल हुदा का नाम सामने आया था. हुदा नेपाल से चुनाव भी लड़ चुका है और उसका नेपाल में एक रेडियो स्टेशन भी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें