scorecardresearch
 

कनिका कपूर एयरपोर्ट पर ही कैसे पाई गईं कोरोना वायरस पॉजिटिव? यूपी पुलिस की FIR पर उठे सवाल

कनिका कपूरे के खिलाफ एफआईआर में लिखा गया है कि एयरपोर्ट पर ही उनका केस पॉजिटिव पाया गया था. यूपी पुलिस के इस दावे पर सवाल उठ रहे हैं.

सिंगर कनिका कपूर पर महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई सिंगर कनिका कपूर पर महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई

कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले में बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने एफआईआर कर दी है. कनिका कपूर 9 मार्च को लंदन से लौटी थीं और बाद में उनके कोरोना वायरस संक्रमित होने की पुष्टि हुई.

कनिका के खिलाफ की गई FIR में लिखा गया है- 'कनिका 14 मार्च को लखनऊ आई थीं. कुछ दिन पहले लंदन गई थीं. उन्हें 14 मार्च को ही एयरपोर्ट पर कोरोना पॉजिटिव पाया गया था. उन्हें घर पर quarantine में रहने के निर्देश दिए गए थे, लेकिन उन्होंने नियम तोड़ने हुए कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया.' इसलिए महामारी कानून के तहत उन पर कार्रवाई की जाएगी.

हालांकि, बाद में लखनऊ पुलिस कमिश्नर ने एफआईआर की एक गलती स्वीकार कर ली. लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे ने कहा- 'सीएमओ की ओर से एफआईआर के लिए आई रिपोर्ट में गलती से उनके (कनिका कपूर) आने की तिथि 14 मार्च लिखी गई. असल में वह 11 मार्च को आई थी. जांच में ये बात सही कर ली जाएगी.'

ये भी पढ़ें-

कोरोना वायरस में किस भयानक दर्द से गुजरे मरीज, खुद बताई आपबीती

लॉकडाउन को लक में बदलें, अकेलेपन में भी लोगों ने रचे हैं इतिहास

वहीं, एफआईआर को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं. क्या भारत या दुनिया के किसी एयरपोर्ट पर असल में कोरोना वायरस का टेस्ट होता है? सरकार की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, असल में कोरोना वायरस का टेस्ट सिर्फ लैब में होता है. कोई पॉजिटिव है या नहीं, इसकी पुष्टि लैब रिपोर्ट के बाद ही हो सकती है. एयरपोर्ट पर सिर्फ तापमान की जांच की जाती है. तापमान सामान्य से अधिक होने पर व्यक्ति को संदिग्ध घोषित किया जा सकता है और उसके सैंपल लैब में भेजे जा सकते हैं.

ट्विटर पर गो एयर के एडवाइजर और स्पाइस जेट के पूर्व सीओओ संजीव कपूर ने कनिका कपूर के संबंध में किए जा रहे दावे पर सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने लिखा है- 'कोई फ्लाइट से कैसे इंग्लैंड से भारत आ सकता है और इस बात को छिपा सकता है कि वह कहां से आ रहा है. इमिग्रेशन को फ्लाइट के बारे में पता होता है. 9 मार्च के वक्त इंग्लैंड से आने वाले लोगों को quarantine होने के लिए भी रिकमेंड नहीं किया जा रहा था. उस वक्त उसके शरीर में लक्षण नहीं थे और एयरपोर्ट पर टेंपरेचर जांच में कुछ नहीं निकला.'

संजीव ने यह भी लिखा है- 'एयपोर्ट पर कोरोना वायरस जांच की सुविधा नहीं है. वे सिर्फ तापमान चेक करते हैं. और डोमेस्टिक विमानों (Domestic arrivals) से आने वाले लोगों की भी जांच नहीं होती.'

वहीं, आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने ट्वीट किया- '9 मार्च को कनिका कपूर लंदन से आई, सिस्टम कहां था? जांच क्यों नहीं हुई? उसने लखनऊ में तीन पार्टियां कैसे कीं? PM ने होली मिलन का कार्यक्रम तक कैन्सल किया लेकिन वशुंधरा राजे, दुष्यंत सिंह, जेपी सिंह पार्टी करते हैं. आखिर क्यों? क्या ये सब आपराधिक लापरवाही के दोषी नही हैं? केस दर्ज होगा?'

कनिका कपूर ने क्या कहा?

आजतक से खास बातचीत में कनिका कपूर ने कहा है कि एयरपोर्ट पर उनकी प्रॉपर स्कैनिंग हुई थी, उन्होंने फॉर्म भरा था, लेकिन उस वक्त उनके अंदर कोई लक्षण नहीं थे. लखनऊ आने के बाद पिछले तीन दिनों से उन्हें कुछ लक्षण महसूस हुए, जिसके बाद वो खुद जांच के लिए गईं और उनका रिजल्ट पॉजिटिव निकला.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें