scorecardresearch
 

JNU छात्रों को मिला दिग्विजय सिंह का साथ, लिखा- पुलिस-मंत्रालय का व्यवहार निराशाजनक

सोमवार को संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन छात्रों ने संसद घेराव का ऐलान किया, छात्र दिल्ली की सड़कों पर मार्च निकालते हुए संसद की ओर कूच कर रहे थे लेकिन दिल्ली पुलिस ने उन्हें रास्ते में रोक लिया.

प्रदर्शन के दौरान JNU छात्र (फोटो: PTI) प्रदर्शन के दौरान JNU छात्र (फोटो: PTI)

  • जेएनयू छात्रों को मिला दिग्विजय का साथ
  • दिल्ली पुलिस के व्यवहार की निंदा
  • आज शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे JNU छात्र

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में हॉस्टल फीस में बढ़ोतरी के विरोध में छात्रों ने प्रदर्शन किया, इस दौरान दिल्ली पुलिस ने लाठियां भांजी. अब उसपर राजनीतिक बवाल हो गया है, कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने इस मसले पर दिल्ली पुलिस और केंद्र सरकार पर निशाना साधा है.

दिग्विजय सिंह ने मंगलवार सुबह ट्वीट कर आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस के द्वारा जिस तरह छात्रों के साथ व्यवहार किया गया है, मैं उसकी निंदा करता हूं. उन्होंने लिखा कि इससे भी अधिक हैरानी JNU प्रशासन और HRD मंत्रालय के व्यवहार पर होती है. कम से कम वो JNU में बढ़ाई गई फीस को वापस ले सकते हैं, जो कि इस बढ़ी फीस को नहीं झेल सकते हैं.

बता दें कि सोमवार को संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन छात्रों ने संसद घेराव का ऐलान किया, छात्र दिल्ली की सड़कों पर मार्च निकालते हुए संसद की ओर कूच कर रहे थे लेकिन दिल्ली पुलिस ने उन्हें रास्ते में रोक लिया. इस दौरान पुलिस के साथ उनकी भिड़ंत हो गई, जिसमें कई छात्र घायल भी हो गए थे.

छात्र आज करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस

JNU के छात्र अब अपनी मांगों को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. शाम 4 बजे छात्र बात करेंगे और अपनी मांगों को रखेंगे. छात्र इस बात पर अड़े हुए हैं कि हॉस्टल की फीस में जो बढ़ोतरी हुई है, वो वापस ली जाए. जो नियमों को लागू किया जा रहा है, उन्हें वापस बहाल किया जाए.

JNU छात्रों की मांग का अन्य राज्यों की यूनिवर्सिटी भी समर्थन कर रही हैं, इसके अलावा कई नेताओं ने भी इस मसले का साथ दिया है. मंगलवार को सीपीआई की तरफ से राज्यसभा में इस मामले पर चर्चा के लिए चिट्ठी लिखी गई है. ऐसे में अभी इस मसले पर और भी विवाद गर्मा सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें