scorecardresearch
 

तिरुपति बस टिकट पर हज यात्रा का विज्ञापन, जगन सरकार ने दी सफाई

आंध्र प्रदेश के तिरुपति से तिरुमाला जाने वाली बस के टिकट पर येरुशलम और हज यात्रा के सरकारी विज्ञापन छपने से विवाद हो गया. वहीं आंध्र प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम (APSRTC) की ओर से कहा गया कि यह टिकट श्रद्धालुओं की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए वापस ले लिए गए हैं.

बस के टिकट पर सरकारी विज्ञापन बस के टिकट पर सरकारी विज्ञापन

आंध्र प्रदेश के तिरुपति से तिरुमाला जाने वाली बस की टिकट पर येरुशलम और हज यात्रा के सरकारी विज्ञापन छपने के मामले पर विवाद हो गया है. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने इस मामले पर राज्य के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी पर हमला किया है.

अब इस पूरे मामले पर आंध्र प्रदेश सरकार में मंत्री वेल्लमपल्ली श्रीनिवास ने बयान दिया है. उन्होंने कहा, जांच से पता चला है कि टिकट के पीछे विज्ञापन देने का टेंडर तृणमूल देशम पार्टी (टीडीपी) सरकार ने दिया था. उन्होंने कहा कि टीडीपी और बीजेपी के नेता हर छोटे मुद्दे के लिए सीएम पर बेबुनियाद आरोप लगाने की कोशिश कर रहे हैं. हम उन सभी के खिलाफ कार्रवाई करेंगे जो इस तरह का प्रचार कर रहे हैं.

वहीं इस मामले पर आंध्र प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम (APSRTC) की ओर से कहा गया कि यह टिकट श्रद्धालुओं की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए वापस ले लिए गए हैं. दोबारा ऐसी घटनाओं से बचने के लिए इस मामले की जांच करने और इसकी जानकारी प्राप्त करने का आदेश दिया गया है.

बता दें कि आंध्र प्रदेश के तिरुपति में मंदिर के अंदर यरुशलेम की यात्रा पर्ची के साथ आरटीसी टिकट मिला था. जिसके बाद बीजेपी ने आरोप लगाया था कि हिंदुओं के पवित्र शहर के ईसाईकरण का प्रयास किया जा रहा है. बीजेपी ने मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी पर भी सवाल उठाए और कहा कि उन्होंने (जगन) अपनी अमेरिका यात्रा के दौरान हिंदू परंपरा के अनुसार दीपक जलाने से इनकार किया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें