scorecardresearch
 

दक्षिण कोरिया और भारत के बीच रक्षा समझौता, नौ सेना की बढ़ेगी ताकत

रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने शुक्रवार को कहा कि समझौते का मकसद रक्षा शैक्षिक आदान प्रदान को आगे बढ़ाना और दोनों देशों की नौसेनाओं के लॉजिस्टिक मदद को विस्तार देना है.

भारत और दक्षिण कोरिया के बीच अहम रक्षा समझौता (फोटो - एजेंसी) भारत और दक्षिण कोरिया के बीच अहम रक्षा समझौता (फोटो - एजेंसी)

  • दक्षिण कोरिया और भारत के बीच अहम समझौता
  • समझौते के बाद बढ़ जाएगी नौसेना की ताकत

भारत और दक्षिण कोरिया के बीच दो अहम रक्षा समझौता हुए हैं जो दोनों ही देशों के सेना के लिए बेहद महत्वपूर्ण है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के पूर्वी एशियाई राष्ट्र के दौरे के दौरान दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग से जुड़े दो समझौता पर भारत और दक्षिण कोरिया ने हस्ताक्षर किए हैं.

रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने शुक्रवार को कहा कि समझौते का मकसद रक्षा शैक्षिक आदान प्रदान को आगे बढ़ाना और दोनों देशों की नौसेनाओं के लॉजिस्टिक मदद को विस्तार देना है.

राजनाथ सिंह ने अपने तीन दिवसीय देश के दौरे के दौरान गुरुवार को अपने दक्षिण कोरियाई समकक्ष जियोंग क्यांगडूसे मुलाकात की थी. राजनाथ सिंह का दौरा शुक्रवार को समाप्त होगा.

उन्होंने ट्वीट किया, 'आरओके के रक्षा मंत्रई जियोंग क्यांग-डू के साथ द्विपक्षीय बैठक काफी सकारात्मक रही. हाल के वर्षों में चल रहे रक्षा सहयोग में अच्छी प्रगति हुई है. हम इन संबंधों को और बढ़ाने की बहुत संभावना पर सहमत हुए हैं.'

मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार, दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय रक्षा सहयोग की व्यापक समीक्षा की.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें