scorecardresearch
 

राजनाथ सिंह ने दिए निर्देश- कश्मीर में हफ्तेभर में पटरी पर लौटे जिंदगी

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल सहित अन्य शीर्ष सुरक्षा अधिकारियों के साथ करीब घंटे भर चली बैठक में राजनाथ ने ये निर्देश दिए.

गृह मंत्री ने राज्य के हालात पर करीब 1 घंटे बैठक की गृह मंत्री ने राज्य के हालात पर करीब 1 घंटे बैठक की

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को सुरक्षा बलों को निर्देश दिया कि वे ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करें जो जम्मू-कश्मीर में हिंसा में शामिल होने के लिए युवाओं को उकसाते हैं. उन्होंने सुरक्षा बलों से यह भी कहा कि वे एक हफ्ते के भीतर राज्य में सामान्य स्थिति बहाल करने की कोशिश करें.

2 महीने से अशांति
राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल सहित अन्य शीर्ष सुरक्षा अधिकारियों के साथ करीब घंटे भर चली बैठक में राजनाथ ने ये निर्देश दिए. सूत्रों ने बताया कि गृह मंत्री ने कहा कि सुरक्षाबलों को कश्मीर घाटी में हिंसा के लिए उकसाने वालों पर कार्रवाई करनी चाहिए और उन पर मामला दर्ज करना चाहिए, क्योंकि वे पिछले 65 दिनों से सामान्य जनजीवन बाधित कर रहे हैं.

छात्रों का सबसे ज्यादा नुकसान
गौरतलब है कि आठ जुलाई को हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी की मुठभेड़ में मौत के बाद से घाटी में अशांति कायम है. राजनाथ ने कहा कि एक हफ्ते के भीतर सामान्य स्थिति बहाल की जानी चाहिए और स्कूल एवं शैक्षणिक संस्थाओं को काम करने देना चाहिए, क्योंकि लंबे समय से चल रहे इस संकट में सबसे ज्यादा नुकसान छात्रों का ही हुआ है.

3 आतंकी ढेर किए
गृह मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि दुकानें और अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों को फिर से खुलवाने की कोशिश की जानी चाहिए. रविवार को कश्मीर में हुई दो अलग-अलग मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई और तीन आतंकवादियों को भी मार गिराया गया. अधिकारियों ने राजनाथ को कश्मीर घाटी के मौजूदा हालात से अवगत कराया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें