scorecardresearch
 

सख्त तेवर के सा‍थ इस्लामाबाद पहुंचे राजनाथ, सार्क वेन्यू के बाहर आतंकी की अगुवाई में प्रदर्शन

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह सार्क देशों के सम्मलेन में शामिल होने के लिए का पकिस्तान पहुंच गए. गुरुवार को वह सार्क गृह मंत्रियों की बैठक में भारतीय समयानुसार 10.30 बजे शामिल होंगे. वहीं 12.30 बजे सम्मलेन को संबोधित करेंगे.

पाकिस्तान पहुंचे राजनाथ सिंह पाकिस्तान पहुंचे राजनाथ सिंह

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह तमाम विरोध और बयानबाजी के बीच सख्त तेवर के साथ सार्क देशों के सम्मलेन में शामिल होने के लिए का पकिस्तान पहुंच गए. गुरुवार को वह सार्क गृह मंत्रियों की बैठक में भारतीय समयानुसार 10.30 बजे शामिल होंगे. वहीं 12.30 बजे सम्मलेन को संबोधित करेंगे.

दूसरी ओर इस्लामाबाद में सम्मेलन वेन्यू के बाहर स्थानीय लोगों ने राजनाथ के खिलाफ प्रदर्शन किया. बताया जाता है कि यह विरोध प्रदर्शन आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के सरगना सैयद सलाउद्दीन की अगुवाई में किया जा रहा था.

आतंकवाद के खिलाफ बड़ी लड़ाई की तैयारी
उच्च स्तरीय सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि सार्क देशों के गृह मंत्रियों की बैठक में राजनाथ सिंह पूरे सार्क देशों में बढ़ रहे आतंकवाद और इसके पीछे आतंकी संगठनों की मदद करने वाले देशों को बेनकाब करेंगे. गृह मंत्रालय ने इसके लिए बाकायदे तैयारी की है.

सभी एजेंसियों के इनपुट से लैस रहेंगे राजनाथ
मंत्रालय की तैयारियों में सभी खुफिया एजेंसी के इनपुट हैं. साथ ही आतंकी गतिविधियों की जांच करने वाली एजेंसी एनआईए से भी 26/11 हमले के साथ-साथ, उधमपुर, पठानकोट और हाल ही में पकड़े गए आतंकी सैफुल्ला बहादुर अली के बारे में जानकारी शामिल की गई है.

ड्रग्स, नकली नोट और हवाला कारोबार पर होगी चर्चा
इसके अलावा राजनाथ सार्क देशों में आतंकी फंडिंग के लिए ड्रग्स ट्रैफिकिंग करने वाले सिंडिकेट और उनकी आतंकी संगठनों से सांठगांठ को भी बेनकाब करने की कोशिश करेंगे. नकली नोटों का हवाला के जरिए कारोबार करके सार्क के सदस्य देशों की अर्थव्यवस्था के लिए सबसे बड़े खतरे के बारे में भी वह बात करेंगे.

सार्क टेरोरिस्ट ऑफेंसज मॉनिटरिंग डेस्क होगा सक्रिय
सम्मेलन में राजनाथ सिंह भारत की तरफ से सार्क देशों से आतंकवाद का मिलकर मुकाबला करने के लिए सार्क टेरोरिस्ट ऑफेंसज मॉनिटरिंग डेस्क (STOMD) को एक्टिव करने के लिए जोर देंगे. साल 1995 में श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में बने यह डेस्क तकनीकी कारणों से अब तक ऑपरेशनल नहीं हुआ है.

सार्क देशों के वीजा इंतजाम पर होगी बात
आतंकवाद के विरोध पर भारत की प्रतिबद्धता का मुद्दा भी सार्क देशों के इस मंच पर उठाए जाएगा. भारत चाहता है कि सार्क देश आतंकवाद को खत्म करने की प्रतिबद्धता पर मजबूत कदम उठाए. सार्क देशों के नागरिकों के लिए वीजा सहूलियतों पर भी बात होगी. पासपोर्ट पर सार्क के स्टीकर लगे होने के आधार पर वीजा तुरंत मिले. इसके लिए कदम उठाने को सहमति बनाए जाने की कोशिश की जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें