scorecardresearch
 

नवंबर से दिल्ली-आगरा रूट पर हाई स्पीड ट्रेन

दिल्ली-आगरा रूट पर 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन चलाने की तैयारी जोर पकड़ रही है और उम्मीद है कि नवंबर महीने में नई गाड़ी भी चलनी शुरू हो जाएगी. अगले हफ्ते इसका एक और ट्रायल होगा.

Symbolic Image Symbolic Image

दिल्ली-आगरा रूट पर 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन चलाने की तैयारी जोर पकड़ रही है और उम्मीद है कि नवंबर महीने में नई गाड़ी भी चलनी शुरू हो जाएगी. अगले हफ्ते इसका एक और ट्रायल होगा.

रेलवे बोर्ड की एक बैठक में 19 डिवीजनों के डीआरएम उपस्थित हुए और उन्होंने हाई स्पीड ट्रेनों को चलाने की दिशा में हो रही प्रगति का  ब्योरा दिया. इसमें बताया गया कि दिल्ली-आगरा रूट पर हाई स्पीड ट्रेन का ट्रायल अगले हफ्ते फिर होगा.

पहला ट्रायल 3 अगस्त को हज़रत निज़ामुद्दीन स्टेशन से आगरा के बीच हुआ था. इसके नतीजों के मद्देनज़र अब अगला ट्रायल होने जा रहा है. इसके बाद ही नई हाई स्पीड ट्रेन की घोषणा होगी.

नरेन्द्र मोदी सरकार ने जिन रूटों पर हाई स्पीड ट्रेन चलाने की घोषणा की है, वे हैं: दिल्ली-कानपुर, नागपुर-बिलासपुर, मैसूर-बैंगलुरू-चेन्नै, मुंबई-गोवा, मुंबई-अहमदाबाद, चेन्नै-हैदराबाद और नागपुर-सिंकदराबाद. इनमें दिल्ली-आगरा रूट भी है जिस पर सबसे पहले हाई स्पीड ट्रेन चलेगी. इन ट्रेनों की औसत रफ्तार 160 किलोमीटर प्रति घंटा होगी.

सभी सम्बद्ध डीआरएम को निर्देश दिया गया है कि वे अपने क्षेत्र में हाई स्पीड ट्रेन चलाने के बारे में दो हफ्तों में रिपोर्ट पेश करें. ऐसा अंदाजा है कि हाई स्पीड ट्रेनों को चलाने में आने वाले खर्च के कारण इन ट्रेनों का किराया सामान्य ट्रेनों से ज्यादा होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें