scorecardresearch
 

गुजरात चुनावः राहुल ने बोला हमला तो मोदी ने किया पलटवार

गुजरात में पहले दौर के चुनाव प्रचार का आखिरी दिन नरेन्द्र मोदी बनाम राहुल गांधी रहा. राहुल ने चुनाव अभियान की शुरुआत करते हुए मोदी सरकार को एक आदमी की सरकार करार दिया. उधर मोदी ने राहुल को होमवर्क करके चुनाव प्रचार में उतरने की चेतावनी दी और इतिहास की जानकारी को दुरुस्त करने की नसीहत दे डाली.

नरेंद्र मोदी नरेंद्र मोदी

गुजरात में पहले दौर के चुनाव प्रचार का आखिरी दिन नरेन्द्र मोदी बनाम राहुल गांधी रहा. राहुल ने चुनाव अभियान की शुरुआत करते हुए मोदी सरकार को एक आदमी की सरकार करार दिया. गुजरात के विकास पर सवाल खड़े किए और महात्मा गांधी की मिसाल देकर कांग्रेस को लोकतंत्र का पैरोकार बताया.

उधर मोदी ने राहुल को होमवर्क करके चुनाव प्रचार में उतरने की चेतावनी दी और इतिहास की जानकारी को दुरुस्त करने की नसीहत दे डाली.

राहुल गांधी का हल्ला बोल
गुजरात के चुनावी रण में पहली बार दो-दो हाथ करने के लिए उतरे राहुल गांधी ने नरेन्द्र मोदी पर किया सबसे बड़ा जुबानी हमला. गुजरात की चुनावी पिच पर राहुल ने गुजरात को महात्मा गांधी की याद दिलाई और लोकतंत्र को बचाने की अपील कर डाली.

राहुल गांधी ने कहा कि हमारे राजनीतिक गुरु महात्मा गांधी हैं. इस देश में लोकतंत्र महात्मा गांधी की वजह से आया. हमें उस लोकतंत्र को सुरक्षित रखना है.

मोदी का पलटवार
राहुल ने मोदी पर निशाना साधा. मोदी को मानो कांग्रेस पर वार करने का मौका मिल गया. मोदी ने राहुल को हिन्दुस्तान के इतिहास की जानकारी रखने की नसीहत दी. राहुल गांधी और कांग्रेस को महात्मा गांधी की याद दिलाई, वो भी मोदी स्टाइल में.

नरेन्द्र मोदी ने कहा, 'आज राहुल बाब आए हैं, जिस घर में बड़े गलती करते हैं वहां बच्चे क्या नही करेंगे, मनमोहन सिंह कर गये, सोनिया कर गयी, आज उन्होने कहा कि मैं गांधीजी से निकट जुड़ा हुआ हूं, ये राहुल बाबा को हिन्दुस्तान का इतिहास पता है, अगर ये कांग्रेस गांधी जी कि नक्शे कदमों पर चली होती तो गांधीजी की एक इच्छा जरूर पूरी करते देश के आजाद होने के बाद गांधी ने सभी नेता को बुलाया और कहा था कांग्रेस को बिखेर दो, ये गांधीजी का सपना हमें पूरा करना है, राहुल बाबा आपको अगर पुरी करनी है तो गांधी जी कि इच्छा पूरी करो.'

राहुल ने यूपीए को बताया गरीबों की आवाज
चुनावी रैली में राहुल ने केंद्र की योजनाओं की तारीफ के पुलिंदे बांधे. मनरेगा का जिक्र किया. रोजगार की गारंटी स्कीम का हवाला दिया. 10 लाख बेरोजगारों का मसला उठा कर गुजरात के विकास पर सवाल ख़ड़े किए. आदिवासियों और दलितों की दशा का मुद्दा उठाया. रैली में राहुल ने ये भी दावा किया कि आम लोगों के भले के लिए सारी योजनाएं कांग्रेस सरकार ही लेकर आई.

राहुल गांधी ने कहा कि हमारी सरकार ने गरीबों को आवाज दी है. रोजगार की गारंटी दी है. कांग्रेस ने आपके हाथ में मोबाइल थमाया.

मोबाइल पर मोदी के तीखे बोल
राहुल ने गुजरात चुनाव में मोबाइल की गुगली डाली, तो मोदी उसमें उलझने की जगह सीधा शॉट खेल दिया. मोबाइल के बहाने मोदी ने राहुल को आम लोगों की बुनियादी जरूरतों की याद दिलाई.

नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस को विजयी बनावो मेरे पिता ने मोबाइल दिलाया था, अरे राहुल बाबा देश के गरीब को दो वक्त कि रोटी चाहिये मोबाइल नहीं, मोबाईल को चार्ज करने के लिए बिजली चाहिये. पहले काम तो करो फिर मोबाइल की बात करो. और ये मोबाइल भी तो अपने पैसे से खरीदा है, आज यूपी के कई गांव में मोबाइल चार्ज करने कि दूकान चलती है.

मोदी इससे पहले इतिहास की समझ को लेकर सोनिया गांधी पर भी निशाना साध चुके हैं. मोदी ने राहुल आगे से अपना होमवर्क ठीक करके गुजरात के चुनावी गदर में उतरने की सलाह दे डाली.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें