scorecardresearch
 

अब नरेंद्र मोदी का 'तूफानी' प्रचार अभियान

गुजरात के मुख्‍यमंत्री नरेंद्र मोदी का एक और तूफानी चुनाव प्रचार अभियान शुरू हो रहा है. नरेंद्र मोदी सोमनाथ मंदिर में आशीर्वाद लेने के बाद सौराष्ट्र में प्रचार करेंगे.

गुजरात के मुख्‍यमंत्री नरेंद्र मोदी का एक और तूफानी चुनाव प्रचार अभियान शुरू हो रहा है. नरेंद्र मोदी सोमनाथ मंदिर में आशीर्वाद लेने के बाद सौराष्ट्र में प्रचार करेंगे.

प्रचार के लिए बीजेपी के दिग्‍गजों का जमघट
अपना पर्चा भरने के बाद नरेंद्र मोदी अब फाइनल राउंड का प्रचार शुरू कर रहे हैं. पार्टी नेता सुषमा स्वराज और बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी भी गुजरात में बीजेपी के लिए वोट मांगेंगे. इम्तिहान का वक्त करीब आ चुका है और तीसरी बार सत्ता हथियाने की बड़ी चुनौती है. लिहाजा नरेंद्र भाई मोदी गुजरात के लोगों को लुभाने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं.

सौराष्‍ट्र व दक्षिण गुजरात में सभाएं
नरेंद्र मोदी सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के इलाकों में लोगों से वोट मांगेंगे. वेरावल के बाद मोदी खंभा जाएंगे और फिर वे भावनगर के महुवा में पब्लिक रैली को संबोधित करेंगे. सौराष्ट्र के बाद नरेंद्र मोदी दक्षिण गुजरात के धरमपुर, कतरग्राम दरवाजा और उधाना में सभाएं करेंगे.

सुशील मोदी भी प्रचार अभियान में
सुषमा स्वराज और स्मृति ईरानी जैसी बीजेपी के कुछ दिग्गज नेताओं की सभाएं तय हैं. वहीं नरेंद्र मोदी की आलोचना करते रहे बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी भी गुजरात में पार्टी के लिए प्रचार करेंगे. सुषमा स्वराज वडोदरा में कई रैलियों को संबोधित करने वाली हैं. वहीं स्मृति ईरानी कच्छ के गांधीधाम में सभाएं करेंगी. सुशील मोदी भी कच्छ के गांधीधाम में वोट मांगेंगे.

क्‍या मोदी को सता रहा है डर?
इस बीच यह सवाल भी खड़े हो रहे हैं कि क्या मोदी को अपने वोट बैंक हिलने का डर सता रहा है? सवाल इस वजह से क्योंकि मोदी अब खुद के नाम पर वोट मांग रहे हैं. गुजरात में 13 दिसंबर को पहले चरण का चुनाव है, लिहाजा चुनाव प्रचार जोरों पर है. बीजेपी के नेता नवजोत सिंह सिद्धू दनादन कांग्रेस पर जुबानी तीर चला रहे हैं. देखना है कि फाइनल राउंड के प्रचार में मोदी कौन-सी नई रणनीति अपनाते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें