scorecardresearch
 

सरकार ने नरेंद्र मोदी, उमा भारती के निजी सचिवों की नियुक्ति की

भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी राजीव टोपनो को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का निजी सचिव नियुक्त किया गया. इसके साथ ही सरकार ने दो अन्य कैबिनेट मंत्रियों के निजी सचिवों के नाम को भी मंजूरी दे दी.

X
नरेन्द्र मोदी नरेन्द्र मोदी

भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी राजीव टोपनो को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का निजी सचिव नियुक्त किया गया. इसके साथ ही सरकार ने दो अन्य कैबिनेट मंत्रियों के निजी सचिवों के नाम को भी मंजूरी दे दी. इन नियुक्तियों को पहले रोक दिया गया था. बुधवार को जारी सरकारी आदेश के अनुसार, गुजरात कैडर के 1996 बैच के आईएएस अधिकारी टोपनो प्रधानमंत्री कार्यालय में निदेशक के पद पर काम कर रहे हैं. उन्हें प्रधानमंत्री का निजी सचिव नियुक्त किया गया है.

आईएएस अधिकारी समीर वर्मा को जल संसाधान, नदी विकास और गंगा पुनर्जीवन मंत्री उमा भारती का जबकि बी.वी.आर.सी. पुरूषोत्तम को संसदीय कार्यमंत्री एम. वेंकैया नायडू का निजी सचिव नियुक्त किया गया है. वर्मा उत्तर प्रदेश कैडर के 2002 बैच के आईएएस अधिकारी हैं जबकि पुरूषोत्तम 2004 बैच के उत्तराखंड कैडर के आईएएस अधिकारी हैं.

सरकारी आदेश में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली कैबिनेट नियुक्ति समिति (एसीसी) के अनुमोदन के बाद वर्मा और पुरूषोत्तम की नियुक्तियों के संबंध में आदेश मंगलवार को जारी हुआ. उनका कार्यकाल मंत्रियों के कार्यकाल तक ही रहेगा. गृहमंत्री राजनाथ सिंह सहित तीन केन्द्रीय मंत्रियों के निजी सचिवों की नियुक्ति को रोकने का फैसला लिए जाने के बाद विवाद उत्पन्न हो गया था. सरकारी सूत्रों के अनुसार, राजनाथ सिंह ने पूर्व गृहमंत्री सलमान खुर्शीद के निजी सचिव रहे आईपीएस अधिकारी आलोक सिंह का नाम अपने निजी सचिव के तौर पर सुझाया था. हालांकि आलोक सिंह की नियुक्ति को मोदी ने मंजूरी नहीं दी.

सूत्रों ने बताया कि केन्द्रीय गृहराज्य मंत्री किरन रिजीजू और केन्द्रीय विदेश राज्यमंत्री वी. के. सिंह के निजी सचिवों के रूप में अभिनव कुमार और राजेश के नाम को भी मंजूरी नहीं मिली. यूपीए सरकार में अभिनव केन्द्रीय राज्य मंत्री शशि थरूर के जबकि राजेश केन्द्रीय मंत्री चन्द्रेश कुमारी कटोच के निजी सचिवों के रूप में कार्यरत थे. सूत्रों का कहना है कि सरकार यूपीए सरकार के मंत्रियों के निजी सचिव रह चुके अधिकारियों को एनडीए सरकार के मंत्रियों के व्यक्तिगत स्टाफ में शामिल नहीं करना चाहती.

इस महीने की शुरुआत में आईएएस अधिकारी मनोज कुमार द्विवेदी को सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग मंत्री कलराज मिश्र का निजी सचिव नियुक्त किया गया था. द्विवेदी 1997 बैच के जम्मू-कश्मीर कैडर के आईएएस हैं. वह डीओपीटी में निदेशक के पद पर कार्यरत थे. तमिलनाडु कैडर के 1999 बैच के आईएएस अधिकारी आशीष चटर्जी को 13 जून को वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री निर्मला सीतारमण का निजी सचिव नियुक्त किया गया था.

कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह के निजी सचिव के रूप में 1997 बैच के बिहार कैडर के आईएएस अधिकारी संतोष कुमार मल्ल को नियुक्त किया गया है. सरकार ने सभी मंत्रियों से कहा है कि वह निजी सचिव या ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी (ओएसडी) की नियुक्ति करने से पहले एसीसी की मंजूरी अवश्य लें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें