scorecardresearch
 

भोपाल कांड पर फोरमैन ने अपनी स्थिति स्पष्ट की

अमेरिका के राष्ट्रीय उप सुरक्षा सलाहकार माइक फोरमैन ने इस बात से इंकार किया कि भोपाल गैस कांड और भारत के विश्व बैंक से ऋण सहायता के बीच कोई संबंध है.

अमेरिका के राष्ट्रीय उप सुरक्षा सलाहकार माइक फोरमैन ने इस बात से इंकार किया कि भोपाल गैस कांड और भारत के विश्व बैंक से ऋण सहायता के बीच कोई संबंध है.

उन्होंने इस बात का जिक्र योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह आहलूवालिया को भेजे गए ई मेल में किया है.

अमेरिकी दूतावास द्वारा जारी एक बयान में फोरमैन ने कहा, ‘आहलूवालिया के साथ अपने निजी संवाद आदान प्रदान के बारे में हालिया खबरों को लेकर मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि मैं दोनों मुद्दों के बीच कोई संबंध स्थापित नहीं कर रहा था क्योंकि दोनों अलग अलग मुद्दे हैं और न ही इससे किसी तरह का खतरा उत्पन्न होने की संभावना है. इस बारे में विपरीत बातें कहा जाना सरासर गलत है. दोनों ही मामले गंभीर और महत्वपूर्ण हैं जो कि सचाई बयां करते हैं.’

फोरमैन ने कहा,‘मैं आश्चर्यचकित हूं कि जो कुछ मैंने लिखा है उसे लेकर लोग समझ रहे हैं कि मैंने भोपाल जैसे गैस कांड की गंभीरता को कम करने की कोशिश की है जो सरासर गलत है. ’

उन्होंने कहा कि भोपाल गैस कांड एक बहुत बड़ी त्रासदी थी जिसमें अनके लोग मारे गए और प्रभावित हुए. भोपाल मामले को लेकर भारतीय लोगों को फैसला करना होगा. इस मामले में अमेरिकी सरकार कतई हस्तक्षेप नहीं करना चाहती है.

आहलूवालिया को भेजे ई मेल से उठे विवाद के बाद उनका यह बयान आया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें