scorecardresearch
 

गांधी जयंती पर केंद्रीय कर्मचारियों को नहीं मिलेगी छुट्टी, लेंगे सफाई की शपथ

आजतक को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक, इस बार 2 अक्टूबर को केंद्र सरकार के दफ्तरों में कोई छुट्टी नहीं होगी और हर दफ्तर में स्वच्छ भारत की शपथ दिलाई जाएगी. यानी 2 अक्टूबर को केंद्रीय कर्मचारी को छुट्टी नहीं मिलेगी और वो सफाई की शपथ लेंगे.

X
महात्मा गांधी महात्मा गांधी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को गंदगी से आजाद कराने का बीड़ा उठाया है. इसके लिए वह देशभर में 'स्वच्छ भारत अभियान' चलाने की योजना रखते हैं. इस अभि‍यान की शुरुआत गांधी जयंती को होगी. आजतक को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक, इस बार 2 अक्टूबर को केंद्र सरकार के दफ्तरों में कोई छुट्टी नहीं होगी और हर दफ्तर में स्वच्छ भारत की शपथ दिलाई जाएगी. यानी 2 अक्टूबर को केंद्रीय कर्मचारी को छुट्टी नहीं मिलेगी और वो सफाई की शपथ लेंगे.

दरअसल, यह पहला मौका है जब देश में गांधी जयंती पर सरकारी दफ्तरों में छुट्टी नहीं मनाई जाएगी. 2 अक्टूबर को सरकार के हर मंत्रालय, दफ्तरों और प्रतिष्ठानों में चपरासी से लेकर सचिव तक अपने-अपने ऑफिसों में स्वच्छ शपथ लेंगे. ये शपथ उनकों मंत्रालय के वरिष्ठ अफसर दिलाएंगे.

जानकारी के मुताबिक, 20 सितंबर को देश के कैबिनेट सचिव अजित सेठ के आदेशों के तहत सभी सचिवों से कहा गया है कि वे अपने मंत्रालय और संबंधित विभाग बैंक और सरकारी प्रतिष्ठानों में काम करने वालों को स्वच्छ शपथ दिलाएं. कैबिनेट सचिव ने लिखा है कि जल्द ही सरकारी विभागों में स्वच्छ शपथ की पंक्तियां ईमेल से भेजी जाएंगी.

सफाई को लेकर बन सकता है कानून
आजतक को मिली प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन की रिपोर्ट जाहिर करती है कि देश में साफ-सफाई के लिए मोदी कई ऐतिहासिक कदम उठाने जा रहे हैं. मंगलवार को बेंगलुरु में उन्होंने स्पष्ट कर दिया कि स्वच्छता अभि‍यान के लिए वह खुद झाड़ू लेकर सड़क पर उतरेंगे. बताया जाता है कि पीएम ने कानून मंत्रालय से जरूरत पड़ने पर इस ओर कानून बनाने के लिए कहा है. यानी आने वाले समय में गंदगी फैलाने वाले कानून के लपेटे में आ सकते हैं.

कैट्ल हॉस्टल बनाने पर विचार
इसके अलावा प्रधानमंत्री ने वित्त मंत्रालय को निर्देश दिए हैं कि देश में प्रदूषण फैलाने वालों पर कोई न कोई टैक्स लगाने की नीति बनाई जाए. मोदी ने शहरों और कस्बों में दूध डेयरी और पशुपालन से फैलने वाली गंदगी के लिए नई नीति बनाने के निर्देश दिए हैं. इसके तहत सरकार पशुओं के लिए कैटल हॉस्ट्ल्स बनाने पर विचार कर रही है.

फिल्मी सितारों का साथ
स्वच्छ भारत को देश का अब तक का सबसे बड़ा अभियान बनाने के लिए मोदी ने अपने मंत्रियों से कहा है कि वे इसके लिए बॉलिवुड कलाकारों की भी मदद लें. मोदी का मानना है कि बॉलिवुड के नामी कलाकार इस अभियान को एक बड़े कैनवास पर उतार सकते हैं. प्रधानमंत्री ने बॉलीवुड के हीरो-हीरोईन के अलावा देश के नामचीन गायकों-गायिकाओं के साथ ही कवियों और साहित्यकारों को भी इस अभियान से जोड़ने के निर्देश दिए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें