scorecardresearch
 

इसरो चीफ के सिवन ने की राष्ट्रपति कोविंद से मुलाकात

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो के प्रमुख के. सिवन ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की. इस मुलाकात के दौरान के. सिवन ने भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रमों के बारे में राष्ट्रपति को जानकारी दी. राष्ट्रपति कोविंद ने उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी दीं.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ इसरो प्रमुख के. सिवन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ इसरो प्रमुख के. सिवन

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो के प्रमुख के. सिवन ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की. इस मुलाकात के दौरान के. सिवन ने भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रमों के बारे में राष्ट्रपति को जानकारी दी. राष्ट्रपति कोविंद ने उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी दीं.

राष्ट्रपति और इसरो प्रमुख की यह मुलाकात मंगलयान मिशन के मंगल ग्रह की परिक्रमा करते हुए 5 साल पूरे करने के अवसर पर हुई है. बता दें कि मंगलयान को केवल 6 महीने के लिए भेजा गया था. लेकिन मंगलयान मिशन ने मंगलवार को मंगल ग्रह की परिक्रमा करते हुए 5 साल पूरे कर लिए हैं.

इसरो प्रमुख के. सिवन ने न्यूज एजेंसी PTI को बताया कि पिछले 5 सालों में भारत के पहले मार्स ऑर्बिटर मिशन (मॉम) ने भारत की अंतरिक्ष एजेंसी को ऑर्बिटर द्वारा मुहैया करायी तस्वीरों के आधार पर मंगल ग्रह की मानचित्रावली तैयार करने में मदद की.

इस मौके पर इसरो प्रमुख ने कहा, 'यह काम कर रहा है और निरंतर तस्वीरें भेज रहा है. अभी वह कुछ और वक्त तक काम कर सकता है.'

वहीं, मिशन के 5 साल पूरे होने पर होने पर पूर्व इसरो प्रमुख ए एस किरण कुमार ने कहा कि इस मिशन का महत्वपूर्ण निष्कर्ष यह पता लगाना रहा कि मंगल ग्रह पर धूल भरी आंधियां सैकड़ों किलोमीटर तक चल सकती हैं. मंगलयान पृथ्वी की कक्षा को सफलतापूर्वक पार करने वाला भारत का पहला मिशन है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें