scorecardresearch
 

कांग्रेस का आरोप, मोदी सरकार ने MP, राजस्थान और छत्तीसगढ़ की झांकी बाहर की

Republic Day parade कांग्रेस ने आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी सरकार ने चुनावी हार का बदला लेने के लिए मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान की झांकियों को गणतंत्र दिवस परेड में शामिल नहीं किया. यह इन कांग्रेस शासित राज्यों का अपमान है. इसके लिए जनता मोदी सरकार को माफ नहीं करेगी.

Republic Day parade in Delhi Republic Day parade in Delhi

इस बार गणतंत्र दिवस परेड में कांग्रेस शासित मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान की झांकियों को शामिल नहीं किया गया. इसको लेकर कांग्रेस पार्टी ने मोदी सरकार पर जबरदस्त हमला बोला है. मध्य प्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा कि मोदी सरकार ने मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में मिली हार का बदला लिया है. गणतंत्र दिवस परेड में शामिल झांकी राज्यों का गौरव और जनता का मान, सम्मान और अभिमान होती है. मोदी सरकार ने मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान की झांकियों को बाहर कर प्रदेश के शीश को कुचलने और अपमानित करने का काम किया है. इसके लिए जनता मोदी सरकार को माफ नहीं करेगी.

कांग्रेस ने यह भी पूछा कि पीएम मोदी चुनावी हार का बदला राज्यों की अस्मिता और स्वाभिमान से क्यों लिया जा रहा है? मध्य प्रदेश कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट कर कहा कि ये भारतीय जनता पार्टी और पीएम मोदी का सबसे निम्न स्तरीय बदला है, जो घोर निंदनीय है. आपको बता दें कि रक्षा मंत्रालय ने सभी राज्यों से महात्मा गांधी की 150वीं जयंती की थीम पर प्रस्ताव मांगा था. इसके बाद मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ ने महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर झांकी का आइडिया का डेमो भेजा था, जिसको चयन समिति ने खारिज कर दिया.

मध्य प्रदेश सरकार के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने आरोप लगाया कि सूबे में कांग्रेस की सरकार आ गई है, जिसके चलते झांकी को निरस्त कर दिया गया है. वहीं, इस बार महात्मा गांधी के स्वदेशी मिशन को ध्यान में रखते हुए नवीनतम और अत्याधुनिक टी-18 इंजन रहित रेल के विकसन और कई अन्य स्वदेशी रूप से निर्मित लोकोमेटिव्य की झांकी को शामिल किया गया. मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट को दर्शाती यह झांकी रेल मंत्रालय ने डिजाइन की थी. इस बार राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में बतौर मुख्य अतिथि दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा शामिल हुए.

भोपाल में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने फहराया तिरंगा

वहीं, मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के लाल परेड मैदान में आयोजित राज्यस्तरीय समारोह में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने ध्वजारोहण किया. मध्य प्रदेश की राज्यपाल पटेल ने ध्वजारोहण के बाद गणतंत्र दिवस परेड का निरीक्षण किया और सलामी ली. हर्ष फायर के बीच पुलिस बैंड दल ने उपनिरीक्षक सुनील कटारे के निर्देशन में  ‘जन गण मन’ की धुन बजाई. राज्यपाल ने हर्ष के प्रतीक रंगीन गुब्बारे भी छोड़े.

एमपी, छत्तीसगढ़ और छत्तीसगढ़ चुनाव में बीजेपी को मिली थी हार

आपको बता दें कि हाल ही में पांच राज्यों में हुए लोकसभा चुनाव में बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा था. इन चुनावों में हार के बाद बीजेपी ने मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ की सत्ता को भी गंवा दी थी. वहीं, इन तीनों राज्यों में कांग्रेस ने सत्ता में वापसी की. मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने 15 साल बाद सत्ता में वापसी की है, जबकि राजस्थान में कांग्रेस ने पांच साल सत्ता में दोबारा से काबिज हुई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें