scorecardresearch
 

गैंगरेपः ड्राइवर ने कहा था, 'मर गई है अब फेंक दो इसे'

दिल्ली में चलती बस में 16 दिसंबर की रात हुए वीभत्स गैंगरेप मामले में 5 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर दी है. दिल्ली पुलिस के सूत्रों की मानें तो गैंगरेप की रात राम सिंह और उसके साथियों ने पीड़ित को मरा हुआ समझकर नीचे फेंका था और इस दौरान राम सिंह ने अपने साथी से ये भी कहा था कि लगता है मर गई है अब इसे फेंक दो.

दिल्ली पुलिस दिल्ली पुलिस

दिल्ली में चलती बस में 16 दिसंबर की रात हुए वीभत्स गैंगरेप मामले में 5 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर दी है. दिल्ली पुलिस के सूत्रों की मानें तो गैंगरेप की रात राम सिंह और उसके साथियों ने पीड़ित को मरा हुआ समझकर नीचे फेंका था और इस दौरान राम सिंह ने अपने साथी से ये भी कहा था कि लगता है मर गई है अब इसे फेंक दो.

दिल्ली पुलिस के सूत्रों की माने को पहले लड़की के दोस्त को नीचे फेंका गया. सूत्रों के मुताबिक जब बस से लड़की को फेंका गया तो उसका शरीर अगले पायदान पर कुछ सेकेंड के लिए अटक भी गया था.

लड़की के दोस्त ने खुद की सांसे थामकर अपने को बस की सीट के नीचे एडजस्ट भी कर लिया था ताकि आरोपी उसे मरा हुआ समझें, राम सिंह और उसके साथियों ने दोनों के कपड़े इसलिए उतारे थे ताकि अगर वो फेंके जाने से बच गए तो भी वो सर्दी की वजह से मर जाएं.

इससे पहले शुक्रवार को इस मामले में पुलिस ने साकेत कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की. 1000 पन्‍नों की इस चार्जशीट में 40 गवाहों के नाम हैं और आरोपियों के खिलाफ कत्‍ल समेत 9 धाराओं में केस दर्ज हुआ है.

आरोपियों के खिलाफ धारा 302, 307, 376 जी, 377, 365, 394, 396, 201 और 34 के तहत केस दर्ज हुए हैं.

इस मामले में केवल 5 अभियुक्‍तों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई है जबकि एक नाबालिग आरोपी का नाम चार्जशीट में नहीं है. पु‍लिस ने चार्जशीट से जुड़े सभी दस्‍तावेजों को सीलबंद लिफाफे में अदालत में पेश किया.

पुलिस ने सुनवाई की रिकॉर्डिंग कराने की भी अपील की है. इस मामले की अगली सुनवाई 5 जनवरी को होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें