scorecardresearch
 

पीड़िता के परिवार को 15 लाख रुपये और नौकरी

दिल्ली सरकार ने सामूहिक दुष्कर्म की शिकार मृत युवती के परिवार को मुआवजे के रूप में 15 लाख रुपये और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की सोमवार को घोषणा की.

दिल्ली सरकार ने सामूहिक दुष्कर्म की शिकार मृत युवती के परिवार को मुआवजे के रूप में 15 लाख रुपये और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की सोमवार को घोषणा की.

वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी गैंगरेप की शिकार छात्रा के परिजन को विवेकाधीन कोटे से 20 लाख रुपए की मदद देने की घोषणा की है. गौरतलब है कि लड़की की मृत्यु से पूर्व मुख्यमंत्री ने पांच लाख रुपए देने की घोषणा की थी.
दिल्‍ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने एक बयान में कहा, 'अत्यंत असाधारण स्थितियों और अपराध की बर्बरता को देखते हुए मंत्रिमंडल ने पीड़िता के परिवार के लिए 15 लाख रुपये की राशि मंजूर करने का निर्णय लिया है.'

एक अधिकारी ने कहा कि यह निर्णय मुख्यमंत्री शीला दीक्षित की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की एक बैठक में लिया गया, जहां यह भी निर्णय लिया गया कि पीड़िता के परिवार के एक सदस्य को नौकरी भी दी जाएगी.

ज्ञात हो कि 16 दिसम्बर की रात सामूहिक दुष्कर्म की शिकार हुई युवती का शनिवार को सिंगापुर के एक अस्पताल में निधन हो गया. रविवार सुबह यहां उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें