scorecardresearch
 

मोदी के नाम पर दिल्ली विधानसभा चुनाव लड़ेगी बीजेपी, जावड़ेकर ने की बैठक

दिल्ली विधानसभा चुनाव के मद्देनजर केंद्रीय मंत्री और दिल्ली के चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर ने मयूर विहार क्षेत्र के पार्टी नेताओं, पार्षदों और जिलाध्यक्षों के साथ बैठक की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो-ट्विटर) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो-ट्विटर)

  • दिल्ली के चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर ने पदाधिकारियों के साथ की बैठक
  • चुनावी रणनीति को लेकर पार्टी पदाधिकारियों से मांगे जा रहे हैं सुझाव
दिल्ली विधानसभा चुनाव के मद्देनजर केंद्रीय मंत्री और दिल्ली के चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर ने मयूर विहार क्षेत्र के पार्टी नेताओं, पार्षदों और जिलाध्यक्षों के साथ बैठक की. बैठक के दौरान चुनाव से जुड़े सुझाव लिए गए, जिसमें पार्टी में कमियां क्या हैं, तैयारी कैसी है, क्या मुद्दे होने चाहिए, आप सरकार को कैसे टारगेट करना है जैसे मुद्दे शामिल रहे. फिलहाल पार्टी नेताओं से सुझाव लिए जा रहे हैं ताकि दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर रणनीति तैयार की जा सके. इस बैठक में संगठन मंत्री सिद्धार्थन, दिल्ली बीजेपी के प्रभारी श्याम जाजू, महामंत्री राजेश भाटिया और कुलजीत चहल शामिल हुए.

सूत्रों के मुताबिक, मयूर विहार क्षेत्र के पार्टी नेताओं ने जो सुझाव दिए कि दिल्ली में बीजेपी कभी विजय कुमार मल्होत्रा के नाम पर चुनाव लड़ी या कभी किरण बेदी के नाम पर, लेकिन हम सफल नहीं हुए. पार्टी के अंदर बहुत खींचतान होती रहती है. इसलिए इस बार उत्तर प्रदेश की तरह दिल्ली में भी सिर्फ मोदी के नाम पर चुनाव लड़ना चाहिए.

कन्हैया कुमार को मुद्दा बनाने का सुझाव

पदाधिकारियों ने कहा कि कन्हैया कुमार के मुद्दे पर बीजेपी को दिल्ली सरकार को घेरना चाहिए और इसे दिल्ली में बड़ा मुद्दा बनाना चाहिए. साथ ही संगठन और सत्ता के बीच समन्वय की कमी है, इसको भी दूर किया जाना चाहिए. पार्टी के नेताओं ने कहा कि दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले छठ का त्योहार आने वाला है. बीजेपी के पास बड़ा मौका है, इसलिए इस बार पूर्वांचली वोटर्स को अपनी तरफ खींचने के लिए बीजेपी को पूरी ताकत लगानी चाहिए. डेंगू के मुद्दे पर पदाधिकारियों ने कहा कि काम एमसीडी कर रही है, लेकिन क्रेडिट केजरीवाल ले रहे हैं.

केंद्र को बड़ी योजना का ऐलान करना चाहिए

बैठक के दौरान सुझाव दिया गया कि केजरीवाल पानी फ्री दे रहे हैं, लेकिन पार्टी को चाहिए कि उन लोगों तक पहुंच बनाए जो लोग पानी का बिल ईमानदारी से भर रहे हैं या फिर जहां पानी की समस्या है. इसके अलावा केजरीवाल सरकार की फ्री बस योजना को टारगेट करने के लिए केंद्र सरकार को भी कोई बड़ा ऐलान करना चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें