scorecardresearch
 

'बुलबुल' तूफान से तबाही, ओडिशा के कई हिस्सों में मूसलाधार बारिश

बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवात तूफान बुलबुल ओडिशा से पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश की तरफ बढ़ रहा है. शुक्रवार को इसके भयानक रूप लेने की आशंका ने चिंता बढ़ा दी थी. मौसम विभाग के अनुसार, आज चक्रवाती तूफान बुलबुल तेज होते हुए अगले कुछ घंटे में उत्तर की ओर बढ़ेगा.

चक्रवाती तूफान बुलबुल (Photo- Aajtak) चक्रवाती तूफान बुलबुल (Photo- Aajtak)

  • चक्रवाती तूफान बुलबुल उत्तर की ओर बढ़ा रहा
  • ओडिशा के कई हिस्सों में भारी बारिश ने मचाई तबाही

बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवात तूफान 'बुलबुल' ओडिशा से पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश की तरफ बढ़ रहा है. शुक्रवार को इसके भयानक रूप लेने की आशंका ने चिंता बढ़ा दी थी. मौसम विभाग के अनुसार, आज चक्रवाती तूफान बुलबुल तेज होते हुए अगले कुछ घंटे में उत्तर की ओर बढ़ेगा. इसके बाद यह तूफान उत्तर-पूर्व की तरफ घूमेगा और फिर पश्चिम बंगाल को पार करते हुए बांग्लादेश के सागर द्वीप और खेपूपारा के बीच तटों से टकराने की संभावना है.  

मौसम विभाग के अनुसार, चक्रवाती तूफान बुलबुल उत्तर की ओर बढ़ा है और तूफान लगभग 230 किमी. की दूरी पर दक्षिण-पश्चिम में सागर द्वीप, 370 किमी दक्षिण-पूर्व में खेपुपारा (बांग्लादेश) और 130 किमी पूर्व-दक्षिण पूर्व के पारादीप में केंद्रित है.  

चक्रवाती तूफान बुलबुल के कारण शनिवार सुबह ओडिशा के कई हिस्सों में भारी बारिश ने तबाही मचाई. ओडिश के बालासोर, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा और भद्रक जिलें में हवाओं के साथ भारी बारिश हुई. गंभीर चक्रवाती तूफान बुलबुल के उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ रहा है. वहीं, मौसम विभाग ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल तट के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया था.

cyclone-bulbul-odisha-2_110919123818.jpg

राज्य के उत्तरी तटीय जिलों में 1000 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया. बालासोर और जगतसिंहपुर जिलों में 1500 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. चक्रवाती तूफान बुलबुल शनिवार सुबह से उत्तर की ओर बढ़ रहा है. तूफान बुलबुल पारादीप के दक्षिण पूर्व में करीब 110 किमी दूर है और शाम 7 से 10 बजे के बीच पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश में लैंडफॉल की संभावना है. ओडिशा में हवा की तीव्रता 70-80 किमी प्रति घंटा दर्ज की गई है.

बीते 24 घंटों में पारादीप में सबसे अधिक बारिश दर्ज की गई है, जो 159 मिलीमीटर है. वहीं चांदबाली में 143 मिलीमीटर और बालासोर में 32 मिलीमीटर बारिश हुई है. मुख्य सचिव असित त्रिपाठी ने भुवनेश्वर मौसम केंद्र के निर्देशक एच. आर विश्वास के साथ शनिवार सुबह हालात की समीक्षा की.

त्रिपाठी ने कहा, 'हम हालात पर निगरानी रख रहे हैं.' वहीं, भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, यह प्रचंड चक्रवाती तूफान बुलबुल ओडिशा के पारादीप के 98 किलोमीटर पूर्व-उत्तरपूर्व में और बालासोर के 135 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पश्चिमी में स्थित है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें