scorecardresearch
 

ओडिशा: विधानसभा में पोर्न देखने वाले कांग्रेसी विधायक सस्पेंड

कांग्रेस विधायक प्रश्नकाल के दौरान अपने स्मार्टफोन पर पोर्न देखते रहे थे. मामला सामने आने के बाद उन्हें विधानसभा से सस्पेंड कर दिया गया.

X

ओडिशा में सोमवार को कांग्रेस को उस वक्त शर्मसार होना पड़ा जब पार्टी के एक विधायक को विधानसभा में पोर्न देखते पकड़ा गया. मामला सामने आने के बाद उन्हें विधानसभा से सस्पेंड कर दिया गया.

एक स्थानीय टीवी चैनल ने इस बात का खुलासा करते हुए बताया कि विधायक प्रश्नकाल के दौरान अपने स्मार्टफोन पर पोर्न देखते रहे थे. वाकया सामने आने के बाद से ही सत्ताधारी बीजेडी ने कांग्रेस विधायक नाबा दास के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

विधायक के खिलाफ एक्शन की मांग
बीजेडी की वरिष्ठ नेता और महिला मोर्चा अध्यक्ष प्रमिला मलिक ने कहा, 'यह बेहद शर्मनाक है. सभी को इसकी निंदा करनी चाहिए. हमने मामले को विधानसभा अध्यक्ष के सामने उठाया है और तत्काल कार्रवाई की मांग की.' ओडिशा प्रदेश बीजेपी ने भी कांग्रेस विधायक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी.

राज्य कांग्रेस ने कहा- मामले की जांच हो
राज्य में कांग्रेस इकाई ने भी मामले की जांच कराने की मांग की है. प्रदेश कांग्रेस कमेटी की महासचिव सुलोचना दास ने कहा, 'यह वाकई दुर्भाग्यपूर्ण है. इसकी जांच होनी चाहिए और अगर विधायक को दोषी पाया जाता है तो उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए.'

विधायक ने कहा- मेरे खिलाफ साजिश
मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए विधायक ने स्वीकार किया है कि वह पोर्न क्लिप देख रहे थे, लेकिन यह अनजाने में हुआ है. उन्होंने कहा, 'जब मैं अपना निजी वेबपेज चेक कर रहा था तो गलती से यूट्यूब पर क्लिक हो गया. मेरा ऐसा कोई इरादा नहीं था. इस घटनाक्रम की जांच होनी चाहिए. यह मेरे खिलाफ साजिश है.'

हालांकि विधायक ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि वह सदन में अपना फोन क्यों इस्तेमाल कर रहे थे, जब सत्र चल रहा था. बता दें कि ओडिशा विधानसभा के सदस्यों को सत्र चलने के दौरान सदन में फोन के इस्तेमाल की अनुमति नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें