scorecardresearch
 

राहुल गांधी ने इकोनॉमी पर मोदी सरकार को घेरा, पुराने तरीके से नापो तो GDP 2.5% भी नहीं

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा. अर्थव्यवस्था, बेरोजगारी, कानून व्यवस्था सहित तमाम मुद्दों को लेकर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आड़े हाथ लिया.

X
राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना (फोटो-ANI)
राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना (फोटो-ANI)

  • राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा
  • नोटबंदी की चोट से देश आजतक उभर नहीं पाया-राहुल गांधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा. अर्थव्यवस्था, बेरोजगारी, कानून व्यवस्था सहित तमाम मुद्दों को लेकर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आड़े हाथ लिया.

दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित कांग्रेस की 'भारत बचाओ रैली' में राहुल गांधी ने कहा कि दुनिया का भविष्य चाइना और इंडिया था और आज ये प्याज पकड़े हुए हैं. हिन्दुस्तान की अर्थव्यवस्था मोदी ने स्वयं अकेले नष्ट कर दी. आपको याद होगा 8 बजे रात को टीवी पर आए और बोले भाइयों और बहनों 500 और 1000 का नोट मैं बंद करने जा रहा हूं. इससे इकोनॉमी को जो चोट पहुंची, वह आज तक ठीक नहीं हुई.

LIVE: कांग्रेस की भारत बचाओ रैली...पढ़े हर ताजा अपडेट

कांग्रेस नेता ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने आपसे झूठ कहा कि कालेधन से लड़ाई है, भ्रष्टाचार को खत्म करना है. झूठ कहा. माताओं-बहनों  आपकी जेब से पैसे निकालकर बड़े उद्योगपतियों के हवाले कर दिए गए.

राहुल गांधी ने जीएसटी का जिक्र करते हुए कहा कि मनमोहन सिंह और पी चिदंबरम जी ने कहा कि जीएसटी को आप (मोदी सरकार) पायलट प्रोजेक्ट के बिना मत लागू कीजिए. लेकिन उन्होंने कहा नहीं. मोदी सरकार ने रात 12 बजे गब्बर सिंह टैक्स लागू कर दिया. जो जीडीपी ग्रोथ 9 परसेंट होती थी वह आज 4 परसेंट हो गई है. पुराने तरीके से नापो तो 2.5 परसेंट भी नहीं होगी.

कांग्रेस नेता ने कहा कि हिन्दुस्तान के सब दुश्मन चाहते थे कि हिन्दुस्तान की अर्थव्यवस्था नष्ट हो. वो दुश्मनों ने नहीं किया बल्कि वो काम हमारे प्रधानमंत्री ने किया और फिर अपने आप को देशभक्त कहते हैं. पूरा का पूरा पैसा दो-तीन उद्योगपतियों को पकड़ा दिया है.

राहुल गांधी ने कहा कि इस देश में बहुत सारे ईमानदार उद्योगपति हैं. अगर इस देश को किसान बनाता है, छोटे दुकानदार बनाते हैं तो ईमानदार उद्योगपति भी बनाता है. पिछले 5 सालों में नरेंद्र मोदी ने अडानी को 50 कॉन्ट्रैक्ट दिए हैं. एक लाख करोड़ रुपये से ज्यादा. देश के एयरपोर्ट पकड़ा दिए. बिना कॉन्ट्रैक्ट दे दिया. क्यों दिया. इसको आप क्या कहेंगे. इसको आप चोरी नहीं कहेंगे भ्रष्टाचार नहीं कहेंगे तो क्या कहेंगे.

इससे पहले जब राहुल गांधी मंच पर पहुंचे तो उन्होंने वहां मौजूद कार्यकर्ताओं को बब्बर शेर और शेरनियां कहकर संबोधित किया. उन्होंने कहा कि मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं है. मेरा नाम राहुल गांधी है. मैं सच्चाई बोलने के लिए कभी माफी नहीं मागूंगा. न कोई कांग्रेस वाला मांगेगा. माफी नरेंद्र मोदी को देश से मांगनी है, उनके असिस्टेंट अमित शाह को देश से माफी मांगनी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें