scorecardresearch
 

बजट भाषण में कैश सब्सिडी का जिक्र था: तिवारी

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी ने सोमवार को कहा कि इस वर्ष के प्रारंभ में तत्कालीन केंद्रीय वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने अपने बजट भाषण में सीधे नकद हस्तांतरण योजना का जिक्र किया था और सरकार ने 28 सितंबर को इसपर एक प्रेस विज्ञप्ति जारी की थी.

मनीष तिवारी मनीष तिवारी

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी ने सोमवार को कहा कि इस वर्ष के प्रारंभ में तत्कालीन केंद्रीय वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने अपने बजट भाषण में सीधे नकद हस्तांतरण योजना का जिक्र किया था और सरकार ने 28 सितंबर को इसपर एक प्रेस विज्ञप्ति जारी की थी.

तिवारी ने कहा, 'मैं समझता हूं कि नकद हस्तांतरण के मुद्दे का पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी द्वारा इस वर्ष मार्च में दिए गए बजट भाषण में जिक्र था और सरकार ने 28 सितंबर को एक प्रेस विज्ञप्ति जारी की थी.'

सरकार को निर्वाचन आयोग के समक्ष नकद हस्तांतरण पर अपना रुख स्पष्ट करना है. निर्वाचन आयोग ने सोमवार तक जवाब मांगा है कि यह योजना पिछले सप्ताह क्यों घोषित की गई. सरकार का दावा है कि यह योजना लाखों ग्रामीणों को मासिक मानदेय समय पर प्राप्त कराने में मददगार होगी.

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने निर्वाचन आयोग से शिकायत की है कि यह योजना गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले घोषित की गई है. गुजरात विधानसभा के लिए 13 और 17 दिसम्बर को मतदान होना है.

निर्वाचन आयोग ने भाजपा की शिकायत पर कैबिनेट सचिव से सोमवार शाम तक जवाब मांगा है.

तिवारी ने कहा, 'यदि निर्वाचन आयोग ने सरकार से कोई स्पष्टीकरण या किसी तरह की व्याख्या मांगी है, तो मैं पूरी तरह आश्वस्त हूं कि सरकार की तरफ से निर्वाचन आयोग को वह जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी.'

तिवारी ने भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए पूछा, 'क्या वे चाहते हैं कि जनता का धन जनता के हाथों में सीधे जाए या वे नहीं चाहते कि जनता का धन जनता के हाथों में जाए.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें