scorecardresearch
 

दलित मुद्दे पर अठावले का कांग्रेस पर वार, कहा- आपने दिया धोखा, मोदी जी ने दिया मंत्री बनने का मौका

केंद्रीय सामाजिक अधिकारिता एवं न्याय राज्य मंत्री रामदास अठावले गुरुवार को राज्यसभा में जब दलितों पर अत्याचार के मुद्दे पर बोले. अठावले ने कहा कि मैं इस मुद्दे पर बहुत सीरियस हूं और केंद्र में मंत्री बनने के बाद और सीरियस हो गया हूं.

केंद्रीय सामाजिक अधिकारिता एवं न्याय राज्य मंत्री रामदास अठावले केंद्रीय सामाजिक अधिकारिता एवं न्याय राज्य मंत्री रामदास अठावले

केंद्रीय सामाजिक अधिकारिता एवं न्याय राज्य मंत्री रामदास अठावले गुरुवार को राज्यसभा में जब दलितों पर अत्याचार के मुद्दे पर बोले. अठावले ने कहा कि मैं इस मुद्दे पर बहुत सीरियस हूं और केंद्र में मंत्री बनने के बाद और सीरियस हो गया हूं.

अठावले ने जब दलित अत्याचार पर चर्चा के दौरान कांग्रेस पर आरोप लगाया, 'आपने कई बार दिया धोखा, नरेंद्र मोदी ने दिया मौका.' देश के विभिन्न भागों में दलितों पर हुए अत्याचार की हाल की घटनाओं पर अल्पकालिक चर्चा के दौरान जब अठावले ने बोलना शुरू किया तो उनका अंदाज ही अलग था. शुरुआत में उन्होंने कहा कि दलित अत्याचार को खत्म करने के लिए जातिवाद व्यवस्था खत्म करनी पड़ेगी. इस पर राजनीति नहीं होना चाहिए और इसी बीच उन्होंने अपने शपथ ग्रहण की बात शुरू कर दी. उन्होंने कहा, 'जब मैं मंत्री पद की शपथ ले रहा था तब मैं अपना नाम ही भूल गया. मैंने नाम नहीं लिया लेकिन मुझे लगता है कि जब मैं खुद वहां खड़ा हूं तो नाम लेने की जरूरत क्या है.'

मजाकिया मूड में दिखे अठावले
आरपीआई अध्यक्ष ने कहा कि राहुल गांधी गुजरात जा रहे हैं तो वो जाएं लेकिन इसी बीच में उन्होंने फिर एक मजाकिया लहजे में बात कही, ' हमें आपने कई बार दिया था धोखा नरेंद्र मोदी जी ने मुझे दिया है मौका.' इसी बीच सदन में आवाज आने लगी कि इस तरह के मुद्दे पर अगर बातचीत हो रही है तो महत्वपूर्ण मुद्दे को हल्का करने की क्यों कोशिश की जा रही है.

'मायावती ने हमसे हाथी छीन लिया'
अठावले ने फिर बोलना शुरू किया और कहा कि मायावती जी की पार्टी से हमारी पार्टी पुरानी है और हमारी पार्टी उससे पहले बनी थी. हाथी हमारा चुनाव चिन्ह था लेकिन बाद में मायावती जी ने हाथी छीन लिया फिर सदन में आवाज आई कि इस पूरे मामले को आखिर क्यों इस तरीके से बनाया जा रहा है. इसके बाद अठावले बोले, 'राजनाथ सिंह मजबूत हैं. हमारे समाज कल्याण मंत्री मजबूत है और मैं भी मजबूत हूं.' तभी कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा की आखिर दलितों के मुद्दे पर चर्चा हो रही है और सामाजिक सामाजिक अधिकारिता राज्य मंत्री मजाकिया लहजे में बात कर रहे हैं?

...और सदन में ठहाके लगने लगे
उप सभापति ने मामले को शांत कराया और अठावले ने एक बार फिर बोलना शुरू कर दिया. इसी बीच सदन में बीजेपी की तरफ से आवाज आई कि‍ एक दलित नेता को बोलने नहीं दिया जा रहा है. अठावले ने कहा कि‍ मैं दलित समाज का हूं मेरा दिल जल रहा है. मैं बहुत सीरियस हूं और मंत्री बनने के बाद तो और सीरियस हो गया हूं और सदन में ठहाके लगने लगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें