scorecardresearch
 

सीधी बात में सुखबीर बादल बोले- निगेटिव कैंपेन के कारण हुई बिहार में BJP की हार

पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने बिहार चुनाव में बीजेपी की हार पर सीधे तो कोई टिप्पणी नहीं की, लेकिन कहा कि निगेटिव कैंपेनिंग के कारण यह हार हुई है.

X
सुखबीर सिंह बादल
सुखबीर सिंह बादल

पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने बिहार चुनाव में बीजेपी की हार पर सीधे तो कोई टिप्पणी नहीं की, लेकिन कहा कि निगेटिव कैंपेनिंग के कारण यह हार हुई है. पंजाब में बीजेपी की सहयोगी शिरोमणि अकाली दल के नेता सुखबीर ने आज तक से सीधी बात में कहा कि जहां जो पॉजिविट कैंपेनिंग करता हैं, जीत उन्हीं की होती है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि वह बिहार की जमीनी स्थिति के बारे में कुछ नहीं कह सकते.

विवादित बयानों पर टिप्पणी से इनकार
सुखबीर ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के उस बयान पर टिप्पणी करने से मना कर दिया जिसमें उन्होंने कहा था कि यदि बिहार में बीजेपी हारी तो पाकिस्तान में पटाखे फूटेंगे. साथ ही शाहरुख के खिलाफ आए बयान पर भी उन्होंने कुछ नहीं कहा. सिर्फ इतना ही बोले कि बिहार की जमीनी हकीकत नहीं जानता.

बिहार की हार का पंजाब में कितना असर
यह पूछे जाने पर कि बिहार में बीजेपी का हार का पंजाब में क्या असर पड़ेगा, सुखबीर बोले- पंजाब की स्थिति पूरी तरह अलग है. हमने पहले भी विकास के मुद्दे पर ही चुनाव जीते हैं. हमने विकास किया है रोड, बिजली में सरप्लस है. गांव 4जी से जुड़े हैं. लाखों का निवेश आया है. हमारा एजेंडा विकास है.

पंजाब में विपक्ष ही बिखरा हुआ है
यह पूछे जाने पर कि पंजाब में भी विपक्ष बिहार की तरह बीजेपी के खिलाफ एकजुट हो रहा है, सुखबीर ने कहा कि पंजाब में विपक्ष पहले ही बिखरा हुआ है. गौरतलब है कि कांग्रेस दावा कर रही है कि बिहार में सभी विपक्षी दल एकजुट हुए और अब पंजाब में ऐसा ही होगा. पंजाब में 2017 में चुनाव होने हैं.

पंजाब के खिलाफ बाहरी ताकतों की साजिश
कानून व्यवस्था बेकाबू होने के सवाल पर सुखबीर बोले- कुछ बाहरी ताकतें पंजाब को अस्थिर कर रही हैं. यह अंतरराष्ट्रीय साजिश है. अब कांग्रेस इसमें शामिल हो गई है. उन्होंने कहा कि सिमरनजीत सिंह मान खालिस्तान का ऐलान करते हैं और कांग्रेस उस मंच पर मौजूद रहती ही है. यह सिखों को बांटने की साजिश है.

पंजाब में मुख्य विपक्षी कौन
इस सवाल के जवाब में सुखबीर ने कहा कि आप और कांग्रेस दोनों ही यहां दूसरे और तीसरे नंबर के लिए लड़ रही हैं. पंजाब में आप का चेहरा भगवंत मान हैं. वह सुबह से शाम तक शराब के नशे में रहते हैं. जहां तक कैप्टन अमरिंदर सिंह का सवाल है तो वो दो बार नॉक आउट (हार) हो चुके हैं.

देश को चाहिए पंजाब की संस्कृति
सुखबीर ने कहा कि पंजाब में कभी सांप्रदायिक हिंसा नहीं हुई. यहां तक कि मिलिटैंसी के दौर में और 1984 के दंगों में भी सांप्रदायिक हिंसा नहीं हुई. क्योंकि पंजाब में हम हर धर्म का उत्सव मनाते हैं. ये पंजाब का कल्चर है. यही कल्चर पूरे देश को चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें