scorecardresearch
 

दिल्ली में संगठन मंत्रियों के साथ अमित शाह की बैठक, संगठन विस्तार पर चर्चा

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह दिल्ली में पार्टी के राष्ट्रीय मंत्रियों के साथ बैठक कर रहे हैं. इस बैठक में संगठन विस्तार, सदस्यता अभियान, राज्य कार्यकारिणी गठन पर चर्चा हो रही है.

बैठक करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (फाइल फोटो) बैठक करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (फाइल फोटो)

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह दिल्ली में पार्टी के राष्ट्रीय मंत्रियों के साथ बैठक कर रहे हैं. इस बैठक में संगठन विस्तार, सदस्यता अभियान, राज्य कार्यकारिणी गठन पर चर्चा हो रही है, बैठक दिल्ली में पार्टी के मुख्यालय में हो रही है.

बता दें कि संगठन के चुनाव पार्टी की सभी राज्य इकाइयों में होने हैं. इसके बाद ही राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव होगा. इसी साल हरियाणा, महाराष्ट्र और झारखंड में विधानसभा चुनाव होने हैं. इस मीटिंग में इस पर चर्चा की जा रही है.

इससे पहले अमित शाह की अध्यक्षता में गुरुवार को राज्य प्रमुखों सहित पार्टी शीर्ष नेताओं की एक बैठक हुई, जिसमें संगठनात्मक चुनावों, सदस्यता अभियान और अन्य संबंधित मुद्दों जैसे कि उनके उत्तराधिकारी को खोजने के लिए किए जाने वाले कार्यक्रम को लेकर चर्चा की गई.

बैठक में मौजूद पूर्व मुख्यमंत्रियों में शिवराज सिंह चौहान, रमन सिंह और वसुंधरा राजे, महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, भूपेंद्र यादव और जे.पी. नड्डा के साथ-साथ भारतीय जनता पार्टी के राज्य इकाई प्रमुख भी शामिल रहे. बैठक में पार्टी में विभिन्न पदों को भरने के लिए नए नेताओं का चुनाव करने की उम्मीद जताई गई.

बैठक में इस सवाल पर भी चर्चा हुई कि क्या अब शाह जो गृहमंत्री बन गए हैं, वह कार्यालय का कार्यभार संभालेंगे या और दो आशान्वितों - नड्डा या भूपेंद्र यादव में से एक को अध्यक्ष पद का प्रभार सौंपेंगे. बैठक में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय एक समिति का गठन किया गया. यह समिति नए सिरे से सदस्यता अभियान चलाएगी.

भूपेंद्र यादव ने कहा था कि चौहान सदस्यता अभियान के समन्वयक होंगे. पार्टी नेता दुष्यंत गौतम, सुरेश पुजारी, अरुण चतुर्वेदी और शोभा सुरेंद्रन सह-समन्वयक के रूप में उनका सहयोग करेंगे. समिति की बैठक जल्द ही होगी, जिसमें सदस्यता अभियान की तिथियां और कार्यक्रम तय होंगे.

जानकार सूत्रों ने संकेत दिया है कि जहां बीजेपी सत्ताधारी पार्टी है, जैसे हरियाणा, महाराष्ट्र और झारखंड, इन महत्वपूर्ण राज्य के चुनावों की देखरेख के लिए शाह इस साल दिसंबर तक अध्यक्ष पद पर बने रहेंगे.  अब राष्ट्रपति शासन को हटाकर जम्मू एवं कश्मीर में भी चुनाव होने हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें