scorecardresearch
 

डोकलाम विवाद पर बाबा रामदेव का आह्वान, त्याग दो चीनी सामान

डोकलाम को लेकर चीन और भारत के बीच चल रहे विवाद को लेकर योग गुरु बाबा रामदेव ने तीखी प्रतिक्रिया जताते हुए कहा कि चीनी सामानों का पूर्ण रूप से बहिष्कार करना चाहिए.

बाबा राम देव ने कहा कि चीन बढ़ा रहा है पाकिस्तानी आतंकवादी बाबा राम देव ने कहा कि चीन बढ़ा रहा है पाकिस्तानी आतंकवादी

डोकलाम को लेकर चीन और भारत के बीच चल रहे विवाद को लेकर योग गुरु बाबा रामदेव ने तीखी प्रतिक्रिया जताते हुए कहा कि चीनी सामानों का पूर्ण रूप से बहिष्कार करना चाहिए.

योगगुरु रामदेव ने ANI को दिए एक इंटरव्यू में देशवासियों से आग्रह करते हुए कहा कि अब हमें चीनी सामान का बहिष्कार करना चाहिए. रामदेव ने कहा है कि अगर हम चीनी सामानों का बहिष्कार कर दें तो चीन को भारत के सामने झुकना होगा और नाक रगड़ने पर मजबूर होना होगा. उनका दावा है कि ऐसा हुआ तो चीन निश्चित तौर पर अपने कदम पीछे खींच लेगा.

योगगुरु ने कहा कि चीन अपने इन्हीं सामानों को भारत में बेच कर उनसे हुए लाभ से वह पाकिस्तान के आतंकवाद को बढ़ावा दे रहा है, जिससे आए दिन पाकिस्तानी आतंकवादी भारत की सीमा पर घुसपैठ कर हमारे सैनिकों को नुकसान पहुचाने का काम कर रहे हैं.

योगगुरु ने कहा कि सबसे पहले हमें पाकिस्तान को मुहतोड़ जवाब देते हुए पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) को भारत से जोड़ना होगा. इसके अलावा हमें चीन द्वारा निर्मित सामानों का बहिष्कार करना चाहिए, फिर चाहे वह किसी भी प्रकार का सामान जैसे मोबाइल फोन, घड़ीयां, गाड़ियां और खिलौना क्यों न हो.

बता दें कि भारतीय सैना ने कुछ दिनों पहले चीनी सैनिकों को डोकलाम सीमा  के निकट सड़क बनाने से रोक दिया था, जिसकी वजह से यह मामला भारत और चीन के बीच गर्माता ही जा रहा है.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें