scorecardresearch
 

जेटली बोले- मोदी सरकार में आतंकियों के हौसले पस्त, हाफिज पर अलग-थलग पड़ा PAK

जेटली ने ये भी कहा कि पिछले आठ महीने से ये हाल है कि जो लश्कर का कमांडर बनेगा, वो ज्यादा दिन नहीं बचेगा.'

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली

मुंबई हमले की बरसी पर केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि हमला करने वाले दुनिया में अलग-थलग पड़ गए हैं. जेटली ने आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान को भी निशाना बनाया है. साथ ही मुंबई हमले के मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज सईद की रिहाई पर सख्त टिप्पणी की.

वित्त मंत्री ने गुजरात में कहा कि मुंबई हमले की बरसी से दो दिन पहले पाकिस्तान ने अटैक के मास्टरमाइंड को रिहा किया है. जेटली ने कहा, 'पाकिस्तान ने अपराधी की रिहाई की है, जिससे पूरी दुनिया एक आवाज में उसके खिलाफ रही है. जो देश आतंक का समर्थन करता है, उसके लिए पूरी दुनिया के परिवार में कोई जगह नहीं है.'

अरूण जेटली ने इस दौरान आतंकवाद के खिलाफ मोदी सरकार की तारीफ भी की. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में आतंकियों के हौसले पस्त हो गए हैं. साथ ही ये भी कहा कि पिछले आठ महीने से ये हाल है कि जो लश्कर का कमांडर बनेगा, वो ज्यादा दिन नहीं बचेगा.'

बता दें कि जमात-उद दावा के मुखिया को 22 नवंबर को नजरबंदी से आजाद कर दिया गया था. जिसके बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मुंबई हमले के गुनहगार हाफिज सईद की रिहाई पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया था. राहुल ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'नरेंद्रभाई बात नहीं बनी, आतंक का मास्टरमाइंड आजाद, राष्ट्रपति ट्रंप ने लश्कर फंडिंग मामले में पाक सेना को क्लीन चिट दे दी, गले लगाने की नीति काम नहीं आई, जल्द ही और गले लगाने की जरूरत है.'

अमेरिका ने कहा- गिरफ्तार करो

अमेरिका ने पाकिस्तान से दो टूक कहा है कि वह हाफिज को गिरफ्तार करे. अमेरिका के डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट के प्रवक्ता हेथर नॉर्ट ने पाकिस्तान से कहा है कि हाफिज ग्लोबल आतंकी घोषित है. जमात-उद दावा चीफ हाफिज सैकड़ों आतंकी हमले करा चुका है, जिसमें अमेरिकी नागरिक भी मारे गए हैं.

अमेरिका ने कहा कि हाफिज की रिहाई से वह चिंतित है. मुंबई हमले का जिक्र करते हुए हेथर नॉर्ट कहा कि 2008 में भारत में हुए हमले में 6 अमेरिकी नागरिक भी मारे गए थे. लिहाजा, पाकिस्तान की सरकार हाफिज को गिरफ्तार कर उस पर चार्जशीट दाखिल करे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें