scorecardresearch
 

सामने आया BJP का नया पोस्टर, पूरे पोस्टर में सिर्फ मोदी का ही चेहरा

दस साल से सत्ता से बाहर रही बीजेपी को अब लगने लगा है कि मोदी के नाम को भुनाए बिना और कोई चारा नहीं. तभी तो अब पोस्टरों में भी मोदी ही मोदी नजर आने लगे हैं. मोदी की तस्वीर के साथ नई सोच, नई उम्मीद लिखे पोस्टर दिल्ली में लगाए गए हैं.

बीजेपी के नए पोस्‍टर में सिर्फ मोदी बीजेपी के नए पोस्‍टर में सिर्फ मोदी

दस साल से सत्ता से बाहर रही बीजेपी को अब लगने लगा है कि मोदी के नाम को भुनाए बिना और कोई चारा नहीं. तभी तो अब पोस्टरों में भी मोदी ही मोदी नजर आने लगे हैं. मोदी की तस्वीर के साथ नई सोच, नई उम्मीद लिखे पोस्टर दिल्ली में लगाए गए हैं.

बीजेपी की नई सोच, नई उम्मीद, मोदी और सिर्फ मोदी. न आडवाणी, न वाजपेयी और ना ही राजनाथ. पूर्वी दिल्ली में लगे पोस्टरों से साफ है कि अब मोदी ही बीजेपी हैं और बीजेपी मोदी. बीजेपी की चुनावी रणनीति अब मोदी के ही इर्द गिर्द घुमेगी. हालांकि बीजेपी के प्रवक्ता इसे पार्टी की मुहिम बताने से कतरा रहे हैं. पार्टी आधिकारिक तौर पर कुछ कहे, लेकिन पोस्टर लगाने वालों के मन में कोई दुविधा नहीं है.

सूत्रों की मानें तो ऐसे पोस्टरों से मोदी के प्रचार अभियान का श्रीगणेश 11 अगस्त की हैदराबाद रैली से होगा. साफ है कि संघ की हरी झंडी और राजनाथ, जेटली के साथ ने मोदी को पीएम इन वेटिंग की रेस में इतना आगे कर दिया है कि बाकी सभी नेता बौने नजर आने लगे हैं.

वाजपेयी जब संघ के काबू से बाहर हो गए तो संघ बार-बार यही संकेत देता था कि चेहरा नहीं संगठन बड़ा है लेकिन लगता है सत्ता से बाहर रह कर पूरे परिवार ने सीख लिया है कि चेहरे पर दांव नहीं लगाया तो लेने के देने पड़ जाएंगे. भले ही आडवाणी लाख नाराज रहें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें