scorecardresearch
 

अन्ना हजारे का ऐलान- आरोप साबित हुए तो केजरीवाल के खिलाफ धरने पर बैठूंगा

जब से कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाए हैं, तभी से हर कोई केजरीवाल पर हमलावर है. अब, अरविंद केजरीवाल के गुरू रहे अन्ना हजारे ने भी ऐलान किया है कि अगर उनके खिलाफ आरोप साबित हुए तो वह धरने पर बैठेंगे और उनका इस्तीफा मागेंगे.

X
धरने पर बैठेंगे अन्ना धरने पर बैठेंगे अन्ना

जब से कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाए हैं, तभी से हर कोई केजरीवाल पर हमलावर है. अब, अरविंद केजरीवाल के गुरू रहे अन्ना हजारे ने भी ऐलान किया है कि अगर उनके खिलाफ आरोप साबित हुए तो वह धरने पर बैठेंगे और उनका इस्तीफा मागेंगे.

आज तक से बात करते हुए अन्ना हजारे बोले कि अगर अरविंद केजरीवाल पर कपिल मिश्रा के द्वारा लगाए गए आरोप सच साबित होते हैं, तो वह इसके खिलाफ जंतर-मंतर पर धरना देंगे. अन्ना बोले कि वह जंतर-मंतर से ही अरविंद केजरीवाल का इस्तीफा मांगेंगे.

पहले बोले थे काफी दुखी हूं
इससे पहले जब केजरीवाल पर कपिल मिश्रा ने आरोप लगाए थे तब अन्ना हजारे ने कहा था कि टीवी पर केजरीवाल से जु़ड़ी भ्रष्टाचार की खबरें देखकर वो बेहद दुखी हैं. इस मामले में वो पहले पूरी जानकारी लेंगे उसके बाद ही कोई राय देंगे. अन्ना का कहना है कि केजरीवाल भ्रष्टाचार के खिलाफ जंग लड़कर ही मुख्यमंत्री की कुर्सी तक पहुंचे हैं. हालांकि उन्होंने कहा कि भरोसा तो उनका उसी दिन टूट गया था जब केजरीवाल के मंत्रियों पर तमाम तरह के संगीन आरोप लग रहे थे और उन्हें इस्तीफा तक देना पड़ रहा था.

बता दें, दिल्ली के जंतर-मंतर पर अन्ना का भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन से ही केजरीवाल उभर कर सामने आए थे. जिसके बाद केजरीवाल की अगुवाई में राजनीतिक पार्टी बनाई गई और दिल्ली की सत्ता तक पहुंची.

आपको बता दें कि हाल ही में केजरीवाल कैबिनेट से निकाले गये कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल पर सत्येंद्र जैन से दो करोड़ रुपये की रिश्वत लेने का आरोप लगाया था. हालांकि, पूरी आम आदमी पार्टी ने अरविंद केजरीवाल का बचाव किया, और कपिल मिश्रा पर बीजेपी की भाषा बोलने का आरोप लगाया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें